दिल्लीशिक्षा

LG वीके सक्सेना ने दिए आदेश, अतिथि शिक्षक भर्ती की होगी जांच

अरविंद केजरीवाल की सरकार पर अब सरकारी स्कूलों में गेस्ट टीचर की भर्ती में धांधली का आरोप लग रहा है। LG वी के सक्सेना ने अंदर की जांच का आदेश.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सरकार पर एक्साइज पॉलिसी स्कैम और वक्फ बोर्ड में हुए घोटाले के बाद। अब सरकारी स्कूलों में गेस्ट टीचर की भर्ती में धांधली का आरोप लग रहा है। इस मामले को लेकर गुरुवार को उपराज्यपाल (LG) वी के सक्सेना ने अंदर की जांच का आदेश दिया है।

इस जांच के लिए (LG) सचिवालय ने चीफ सेक्रेटरी को एक लेटर लिखा लिखा है। इसमें फर्जी गेस्ट टीचर्स के नाम पर सैलरी में गड़बड़ करने के मामले की जांच की जाएगी। शिक्षा निदेशक को लिखे इस लेटर में सरकारी स्कूलों में नियुक्त किए गए। गेस्ट टीचर्स की फिजिकल अटेंडेंस और सैलरी स्टेटस की रिपोर्ट मांगी गई है। इस रिपोर्ट को एक महीने के अंदर जमा करने का आदेश दिया गया है।

आप को बता दें की दिल्ली में 25 हजार गेस्ट टीचर्स की नियुक्ति पर भी सवाल उठ रहे हैं। अभी कुछ दिन पहले किये गए एक ऑडिट में भी हेराफेरी का मामला सामने आया है। इसकी जांच से पता चला कि दिल्ली के मानसरोवर पार्क के सीनियर सेकेंडरी स्कूल में गेस्ट टीचर्स के नाम पर तीन लोगों को 4 लाख 21 हजार रुपए की सैलरी दी गई,बता दें की इनकी नियुक्ति इस स्कूल में थी ही नहीं। सक्सेना ने पैसे गबन के मामले को पिछले हफ्ते ही दिल्ली सरकार के एक स्कूल के चार वाइस प्रिंसिपल के खिलाफ जांच के आदेश दिए थे। बता दें इस मामले की जांच एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) कर रही है।

विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और भाजपा विधायक रामवीर सिंह बिधूड़ी ने उपराज्यपाल से दिल्ली के शिक्षा मॉडल पर श्वेत पत्र देने का निवेदन किया है। और बिधूड़ी ने ये भी कहा- 1027 सरकारी स्कूलों में से 745 स्कूलों में साइंस-कॉमर्स नहीं पढ़ाई जाती। और ये भी कहा की पिछले सात सालों में सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों की संख्या में एक लाख बच्चों की कमी आई है।

बता दें सरकारी स्कूल की एक क्लास में 100 से भी ज्यादा बच्चे हैं, जबकि नियम के मुताबिक, एक क्लास में 40 से ज्यादा बच्चे नहीं होने चाहिए। और उन्होंने आगे कहा दिल्ली के 12 कॉलेजों में कई महीनों से शिक्षकों, कर्मचारियों और वहा काम करने वाले को वेतन ही नहीं मिला। बिधूड़ी ने ये भी कहा कि कुछ नहीं वर्ल्ड क्लास एजुकेशन मॉडल के नाम पर पूरे देश को धोखा देने की कोशिश की जा रही है।

Tez Tarrar App

ये भी पढ़े: कैसा होगा ब्रह्मास्त्र का दूसरा पार्ट, निर्देशक अयान ने किया बड़ा खुलासा

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button