दिल्लीबिज़नेस

LIC ने निकाली शानदार पालिसी एक बार पैसा जमा करने पर जीवन भर मिलेगा लाभ

अगर आप भी अपने बुढ़ापे को सिक्योर करना चाहते हैं तो आपके लिए LIC लाई है शानदार पालिसी LIC ने एक नई और अच्छी पॉलिसी जीवन शांति पॉलिसी.....

आप भी अगर अपने बुढ़ापे के खर्चों को लेकर चिंता में हैं तो आपके लिए एक अच्छी खबर है.अगर आप भी अपने बुढ़ापे को सिक्योर करना चाहते हैं तो आप के लिए है ये बेहतर योजना। आप को बता दें की LIC ने एक नई और अच्छी पॉलिसी जीवन शांति पॉलिसी (New Jeevan Shanti Policy) की शुरुआत की है. इस पॉलिसी में बस आपको एक बार निवेश करना है और जीवन भर गारंटी के साथ पेंशन मिल सकती है. इससे आप अपने रिटायरमेंट के बाद के खर्च को आसानी से पूरा कर सकते हैं.और अच्छा जीवन व्यतीत कर सकते है।

वैसे तो यह योजना LIC के पुराने जैसा ही है. बता दें जीवन शांति पॉलिसी (New Jeevan Shanti Policy) में आपके पास दो Option होते हैं. 1 इमीडिएट एन्युटी, 2 डेफ्फर्ड एन्युटी. यह एक सिंगल प्रीमियम प्लान है. पहले यानी इमीडिएट एन्युटी के तहत पॉलिसी लेने के बाद ही पेंशन की सुविधा मिल जाती है.और वहीं दूसरी यानी डेफ्फर्ड एन्युटी के विकल्प में पॉलिसी लेने के 5,10,15 या 20 साल बाद ही पेंशन की सुविधा मिल जाती है.अगर आप चाहें तो अपनी पेंशन तुरंत शुरू भी करा सकते हैं।

इस योजना में पेंशन की रकम तय नहीं है. आपके निवेश, उम्र और डिफरमेंट पीरियड के अनुसार आपकी अपनी पेंशन मिलेगी. जानकारी के अनुसार निवेश और पेंशन शुरू होने के बीच की अवधि जितनी ज्यादा होगी या फिर उम्र जितनी ज्यादा होगी,बता दें आपको पेंशन उतनी ही मिल सकती है एलआईसी (LIC) आपके निवेश पर बन रहे फीसदी के हिसाब से पेंशन देती है.

LIC की इस योजना को आप कम से कम 30 वर्ष और अधिकतम 85 वर्ष तक के व्यक्ति ही ले सकते हैं. शांति प्लान में लोन, पेंशन शुरू होने के 1 साल बाद और इसे सरेंडर, पेंशन शुरू होने के 3 महीने बाद भी किया जा सकता है. दोनों विकल्पों के लिए इस पॉलिसी को लेते समय सालाना दरों की गारंटी भी दी जाएगी. इस योजना के अंदर विभिन्न वार्षिकी विकल्प एवम वार्षिकी भुगतान के मोड भी उपलब्ध है. लेकिन इस पॉलिसी को लेते समय ये ध्यान रखें कि एक बार चुने गए विकल्प को बदला नहीं जा सकता है. इस योजना को आप ऑफलाइन और साथ ही ऑनलाइन भी खरीद सकते है।

Tez Tarrar App

यह भी पढ़े: दिल्ली में खत्म हुई शराब पर मिलने वाली बंपर छूट, जानें नई नीतियां

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button