दिल्ली

दिल्ली में आई नई इको फ्रेंडली DTC बसें, परिवहन मंत्री ने दिखाई हरी झंडी

दिल्ली सरकार दिल्ली की बस परिवहन प्रणाली को बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है ताकि सफर में लोगों को परेशानी का सामना ना करना पड़े। 

दिल्ली के सार्वजनिक बसों के बेड़े ने 7000 के आंकड़े को पार किया है। इसी के चलते परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने सोमवार को इंद्रप्रस्थ डिपो से 100 नई लो-फ्लोर सीएनजी (CNG) बसों के साथ एक नई इलेक्ट्रिक बस को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया।

अब दिल्ली के परिवहन बेड़े में बसों की संख्या बढ़कर 7001 हो गई है। आपकों बता दें कि पहले 2010 में राष्ट्रमंडल खेलों के दौरान दिल्ली में 6000 बसों का आंकड़ा पार किया गया था। 

ऐसें में दिल्ली सरकार दिल्ली की बस परिवहन प्रणाली को बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है ताकि सफर में लोगों को परेशानी का सामना ना करना पड़े। 

आपकों बता दें कि जनवरी 2022 में दिल्ली सरकार ने अपने परिवहन बेड़े में 200 से अधिक नई बसें शामिल की थीं। इनमें 2 नई इलेक्ट्रिक बसें शामिल हैं।

पब्लिक ट्रांसपोर्ट  को बढ़ावा देने के लिए दिल्ली सरकार बड़े पैमाने पर सीएनजी और इलेक्ट्रिक बसें शामिल करेगी। साथ ही सुरक्षा और सुविधा के लिए सभी बसों में रीयल टाइम ट्रैकिंग, सीसीटीवी, पैनिक बटन और दिव्यांग अनुकूल रैंप सहित दूसरी सुविधाएं भी हैं। 

दिल्ली सरकार ने पुरानी हुई बसों के बेड़े से सेवामुक्त होने को देखते हुए डीटीसी के बेड़े में अतिरिक्त 1000 ई-बसें सहित क्लस्टर बेड़े में 240 ई-बसों को शामिल करने की योजना बनाई है। 

बतातें चलेें कि परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि फरवरी के महीने में हर दिन 30 लाख से अधिक लोगों ने डीटीसी और क्लस्टर बसों में यात्रा की है। 

Vishalgarh Farms

इसी के साथ, नई बसों को दिल्लीवासियों को समर्पित करते हुए परिवहन मंत्री ने अपने निजी वाहनों के उपयोग को कम करने और प्रदूषण और भीड़भाड़ मुक्त दिल्ली के लिए सार्वजनिक परिवहन का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करने का आग्रह भी किया।  

ये भी पढ़े: GST Rate Hike: बढ़ सकती है GST की दर, जरूरी चीजों की होगी ज्यादा कीमत

Aanchal Mittal

आँचल तेज़ तर्रार न्यूज़ में रिपोर्टर व कंटेंट राइटर है। इन्होने दिल्ली के सोशल व प्रमुख घटनाओ पर जाकर रिपोर्टिंग की है व अपनी कवरेज में शामिल किया है। आम आदमी की समस्याओ को इन्होने अपने सवालो द्वारा पूछताछ करके चैनल तक पहुँचाया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button