अपराधदिल्ली

Kanjhawala Case में नया खुलासा, अंजलि की मौत के पीछे पांच नहीं सात हैं आरोपी

दिल्ली में हुए कंझावला कांड को लेकर आज पुलिस ने एक बड़ी प्रेस कॉन्फ्रेंस की है जिसमें अब कई नए खुलासे भी हुए हैं।...

दिल्ली पुलिस ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया है कि इस मामले की जांच के लिए अब कुल 18 टीमें बना दी गई हैं जो की दिनरात काम कर रही हैं। इस जांच में पुलिस ने दो अन्य लोगों को भी इस केस का आरोपी बनाया है जिनकी तलाश अभी जारी है।

इस नए साल पर दिल्ली में हुए कंझावला कांड को लेकर आज पुलिस ने एक बड़ी प्रेस कॉन्फ्रेंस की है जिसमें अब कई नए खुलासे भी हुए हैं। गुरुवार को दिल्ली पुलिस के एक स्पेशल सीपी (लॉ एंड ऑर्डर) डॉ. सागर प्रीत हुड्डा ने भी प्रेस विस्तृत प्रेस कॉन्फ्रेंस की है जिसमें उन्होंने दो अन्य नए आरोपियों से लेकर इस दुर्घटना की सटीक टाइमिंग क्या थी और इसके बारे में भी बताया है नीचे पढ़ें पुलिस ने क्या ओर नए खुलासे किए…

  • दिल्ली पुलिस की कुल 18 टीमें इस मामले की जांच में लगी हुई हैं।
  • पुलिस हर गवाह व पक्ष से बड़ी गहनता से लगातार पूछताछ कर रही है।
  • इस वारदात की रात कार दीपक नहीं बल्कि अमित चला रहा था।
  • अमित जो की गाड़ी चला रहा था उसके पास ड्राइविंग लाइसेंस भी नहीं था।
  • झावला कांड के मामले में पुलिस दो अन्य लोगों को भी आरोपी बनाया है। इसके चलते अब इस कांड में कुल 7 आरोपी हैं।
  • दो नए आरोपियों के नाम है आशुतोष व अंकुश खन्ना आशुतोष वही है जिसकी बलेनो वो आरोपी ले गए हुए थे और अंकुश, आरोपी अमित का ही भाई है।
  • पुलिस ने बताया है कि आशुतोष ने पुलिस से गलत जानकारी देने के लिए आरोपी बनाया गया है। उसी ने ये कहा था कि दीपक कार ले गया था और वो ही कार चला रहा था।
  • वहीं अंकुश को भी पुलिस ने इसलिए आरोपी बनाया है की क्योंकि आरोपी भाई अमित से इस घटना के बारे में सब जानकर उसी ने इस कार को किसी और के चलाने वाली बात पर प्रसारित करने को कहा था।
  • जरूरत पड़ने पर दिल्ली पुलिस नार्को टेस्ट भी करा सकती है।
  • जब पुलिस से अंजलि के शराब पीने को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इसकी पूरी पुष्टि फाइनल पोस्टमार्टम आने पर ही होगी।
  • सभी आरोपियों और अंजलि के बीच कोई भी कनेक्शन नहीं था।
  • उन आरोपियों और अंजलि की दोस्त निधि के बीच कोई भी कनेक्शन नहीं था।
  • ये पूरी घटना रात 2.04 बजे से लेकर 2.06 बजे के बीच में ही हुई थी।

Tez Tarrar Appये भी पढ़े:  सड़क पर शव को रातभर कुचलते रहे वाहन, चिपकी हड्डियां व उड़े कई चीथड़े

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button