दिल्लीदिल्ली एनसीआर

अब दिल्ली में बन गया Dinosaur Park! जंगल जैसी बनावट और डायनासोर से घिरे हुए

स्क्रैप से भी निर्मित देश का पहला डायनासोर पार्क दिसंबर के आखिर तक तैयार हो जाएगा और इसके निर्माण का करीब 85 फीसदी काम अब हो चुका है।

दिल्ली में बहुत से लोग है जिन्हे घूमने का शौक है। ऐसे में अब उनके लिए अच्छी खबर सामने आयी है जहां बस कुछ दिन का इंतजार है क्योकि दिल्ली में डायनासोर के साथ ऐसे घूमना होगा जैसे जुरासिक पार्क में हों। यहां स्क्रैप से भी निर्मित देश का पहला डायनासोर पार्क दिसंबर के आखिर तक तैयार हो जाएगा और इसके निर्माण का करीब 85 फीसदी काम अब हो चुका है।

बता दें कि पार्क में 40 डायनासोर होंगे, जिनमें से 24 छोटे और 16 बड़े आकार के होंगे। वही सबसे बड़ा डिप्लोडोकस डायनासोर 60 फुट ऊंचा, 71 फुट लंबा और 13 फुट चौड़ा होने वाला है, जिसके भीतर पार्टी भी होगी। इसे सीधे पार्क की ही कैंटीन से जोड़ा जा रहा है। इतना ही नहीं बच्चों के पसंदीदा टी-रेक्स कैरेक्टर वाले डायनासोर को भी यहा बनाया गया है, जिसके मुंह से आग निकलेगी और पूंछ भी हिलती रहेगी। देखा जाए तो पर्यावरण के लिहाज से पार्क में पहले से मौजूद पेड़ों और झाड़ियों को भी बिल्कुल नहीं काटा गया है। बल्कि और भी पेडों और झाड़ियों को उगाया जा रहा है।

गौरलब है कि हजरत निजामुद्दीन में MCD के वेस्ट टु वंडर पार्क की विस्तार योजना के अंतर्गत ही इस डायनासोर पार्क को बनाया जा रहा। साथ ही इस पार्क को करीब 300 टन मेटल स्क्रैप, हार्टिकल्चर वेस्ट और C&D वेस्ट के इस्तेमाल से बनाया जा रहा। साथ ही पार्क के अंदर डायनासोर को बच्चों को ध्यान में ही रखकर बनाया गया है जहां बच्चे इसके भीतर जा सकते हैं और सेल्फी भी खींच सकते हैं। डायनासोर के साथ ही फिल्म का दृश्य भी बनाने की कोशिश की गई है जिसमे से कई डायनासोर की गर्दन और पूंछ हिलेगी।

जंगल की तरह बनाया जा रहा

हालाँकि, इस पार्क को कुछ इस तरह से बनाया गया है कि मानो आप खुद ही जंगल में हों और चारों तरफ डायनासोर से घिरे हुए हों। साथ ही डायनासोर के चारों ओर घने पेड़ होंगे और इनके बीच बड़ी खूबसूरती से रास्ते बनाए गए हैं। साथ ही लाइटिंग इफेक्ट के लिए जमीन के नीचे से ही वायरिंग की गई है और लाइटिंग कंट्रोल सिस्टम से अचानक अंधेरा हो जाएगा, रंजिसके बाद गीन लाइट जल जाएगी और कभी डायनासोर की आंख से रंगीन लेजर लाइट निकलने लगेगी।

Accherishtey

ये भी पढ़े: मेट्रो यात्रियों के लिए खुशखबरी! अब लाइन चेंज करने के लिए नहीं चलना पड़ेगा अधिक

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Back to top button