अपराधदिल्ली

विधवा के जज्बातों से खिलवाड़, महिला को शादी का झांसा देकर 34 लाख ठग्गे

37 वर्षीय विधवा महिला ने 13 जुलाई को साइबर सेल में ठगी की शिकायत की। जिसमें उन्होंने बताया कि उसने मैट्रिमोनियल साइट पर अपना एक प्रोफाइल...

मैट्रिमोनियल साइट पर दिल्ली की विधवा महिला से दोस्ती कर शादी का झांसा देकर 34 लाख रुपये की ठगी करने का मामला सामने आया है।

शिकायत मिलने के बाद बाहरी जिला साइबर सेल ने मामले की छानबीन शुरू करते हुए एक महिला समेत दो नेपाली नागरिकों को गिरफ्तार किया है। जालसाजों के पास से पुलिस ने 40 हजार रुपये, चार मोबाइल फोन, पांच पासबुक और चेक बुक बरामद की है।

पश्चिम विहार की रहने वाली 37 वर्षीय महिला ने 13 जुलाई को बाहरी जिला साइबर सेल में ठगी की शिकायत की। जिसमें उन्होंने बताया कि वह विधवा है और उसने मैट्रिमोनियल साइट जीवन साथी डॉट कॉम पर अपना एक प्रोफाइल बनाया था। साइट के जरिए वह डॉक्टर नरेश एंड्रयूज नाम के व्यक्ति के संपर्क में आई।

उसने बताया कि वह विदेश में रहता था। उसने उसे मैसेज किया और फिर दोनों चैटिंग करने लगे। दोनों एक दूसरे से शादी करने के लिए तैयार थे। नरेश एंड्रयूज ने पीड़िता को जानने और उससे शादी करने के लिए भारत आकर मिलने की बात कही।

एक दिन आरोपी ने बताया कि वह मुंबई एयरपोर्ट पहुंच गया है, लेकिन उसके पास कीमती गिफ्ट होने की वजह से कस्टम वालों ने उसे पकड़ लिया है। उसके बाद एक महिला ने खुद को कस्टम अधिकारी बताकर पीड़िता से कई मदों में 34.88 लाख रुपये एक बैंक खाते में डलवा लिए। ठगी का अहसास होने पर पीड़िता ने साइबर सेल में शिकायत की।

पुलिस ने जीवन साथी डॉट कॉम पर दर्ज नरेश की प्रोफाइल के जरिए इस्तेमाल किए गए फोन नंबरों के सीडीआर निकालकर उसका विश्लेषण किया। साथ ही पुलिस ने उस बैंक खाते की जांच की, जिसमें पैसे जमा किए गए थे। खाता द्वारका सेक्टर 12 स्थित एसबीआई बैंक का था। खाता ओमस गुरंग के नाम से था।

एटीएम से पैसे निकालते हुए जालसाज का फोटो हासिल कर लिया गया। फोन की तकनीकी जांच कर आरोपी को विश्वास पार्क और उसकी महिला साथी रेणुका को रामफल चौक से गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के मुताबिक दोनों के खिलाफ छत्तीसगढ़ के बस्तर जिला में भी ठगी का मामला दर्ज है। रेणुका ने बताया कि वह मूलत: नेपाल की रहने वाली है। 6 साल पहले वह दिल्ली आई। शादी के कुछ दिन के बाद ही उसका तालाक हो गया। उसके बाद वह नवादा के एक टूर एंड ट्रैवल्स के कार्यालय में काम करने लगी।

यहां उसकी मुलाकात एक नाइजीरियाई युवक जॉन से हुई। जॉन ने उसे साइबर ठगी के बारे में बताया। फिर उसने मैट्रिमोनियल साइट पर एक फर्जी प्रोफाइल बनाकर अपने साथी के साथ ठगी करने लगी। ठगी की रकम को तीनों आपस में बांट लेते थे। पुलिस फरार जॉन की तलाश कर रही है।

Hair Crown

यह भी पढ़े: Delhi: भरे बाजार में युवक की चाकू मारकर हत्या, तमाशबीन बने रहे लोग

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button