दिल्ली

दिल्ली में बढ़ रही पानी की किल्ल्त को लेकर सरकार ने बनाया ‘ समर एक्शन प्लान 2022 ‘

दिल्ली के लोगों के लिए पानी कि समस्या का समाधान दिल्ली सरकार द्वारा किया जा रहा है, जहां दिल्ली सरकार 'समर एक्शन प्लान 2022' लायी है

दिल्ली के लोगों के लिए पानी कि समस्या का समाधान दिल्ली सरकार द्वारा किया जा रहा है। जहां दिल्ली सरकार इसको निपटने के लिए ‘समर एक्शन प्लान 2022’ लायी है। इसकी मदद से गर्मी में होने वाली पानी की किल्लत से लोग बच सकेंगे।

बता दें कि गुरुवार को जल मंत्री एवं दिल्ली जल बोर्ड के अध्यक्ष सत्येंद्र जैन ने दिल्ली सचिवालय में हाई लेवल बैठक हुई जिसमे पेयजल आपूर्ति से संबंधित कार्य जैसे पानी की लाइनें बिछाने, ट्रीटमेंट प्लांट को दुरुस्त करने आदि कि रिपोर्ट मांगी गयी। साथ ही दिल्ली के इलाको में जहां ट्रक से पानी पहुंचाया जाता है उसके कार्यो में सुधार और उनकी शिकायतों को जल्द ठीक करने कि भी बात कि गयी है।

हालाँकि, जल मंत्री सत्येंदर का कहना है कि दिल्ली सरकार वाटर ट्रीटमेंट प्लांट्स को अपग्रेड किया जा रहा है ताकि लोगों को पानी कि परेशानी न हो। साथ ही लोगों के घरों में साफ़ पानी हर टाइम पहुंचे और जो शिकायते दर्ज कराई जाती है उनका भी समाधान जल्द से जल्द हो सके।

65 MGD अधिक पानी की सप्लाई होगी

गर्मियों के समय दिल्ली में पानी का सप्लाई 935 MGD ( Million gallons per day ) किया जाता था। लेकिन इस साल दिल्ली सरकार का लक्ष्य है कि वो पानी का सप्लाई इस बार 1000 एमजीडी तक ले जाए, जिसका मतलब है कि दिल्ली के लोगों को 65 एमजीडी अधिक पानी का लाभ उठा सकेंगे।

हरियाणा से आ रहे पानी की होगी निरंतर निगरानी

हरयाणा से पानी दिल्ली आने में बहुत सी बार अमोनिया का स्तर बढ़ जाता है जिस वजह से दिल्ली के प्लांट कि क्षमता काम हो जाती है और पानी कि दिक्कत ज्यादा हो जाती है । इस से बचने के लिए जल मंत्री सत्येंद्र जैन हरियाणा सरकार से वह जाकर बात करेंगे और इस स्थिति को कंट्रोल में लाएंगे।

जेजे कॉलोनियों में पाइपलाइन से होगी जलापूर्ति

दिल्ली के जेजे कॉलोनियों कि बात करे तो वह ज्यादा पानी कि समस्या देखि जाती है जिसका उपाय भी दिल्ली सरकार द्वारा निकल लिया गया है जहां पाइपलाइन कि जरिये पानी कि सप्लाई कि जाएगी । यह लाम दिसंबर के 2021 से चल रहा है जहां 1642 कॉलोनियों में पाइपलाइन बिछाई जा चुकी है। जिसमे से 65 कॉलोनियों में यह सुविध पाइपलाइन से शरू कर दी जाएगी और अभी बची 38 कॉलोनियों में पाइपलाइन लगयी जा रही है।

जीपीएस के जरिए रखी जा रही है टैंकरों पर निगरानी

दिल्ली सरकार इस बार GPS आधारित टैंकरों का इस्तेमाल कर रही है। इस से टैंकरों की पूरी निगरानी रहेगी और इसका रियल टाइम पर पता चल जाता है साथ ही वह अपने निर्धारित डेस्टिनेशन तक पहुंचा या नहीं, कब पहुंचा, इसका भी रिकॉर्ड रखा जा रहा है। जिस वजह से ट्रैकरों में जीपीएस लगवाए गए है ।

वेबसाइट पर उपलब्ध होगी पानी की आपूर्ति के समय की जानकारी

पीने के पानी के लिए मेंटेनेंस और अलग उपकरण भी जल्द ठीक कर दिए जायेंगे। यह भी सुनिश्चित किया जाएगा कि बूस्टर पंपिंग स्टेशनों के सभी पंप काम करने की स्थिति में हैं या नहीं और साथ ही पुरानी पानी की पाइप लाइनों को बदल दिया गया है।

ऑनलाइन कर सकते हैं पानी के बिल की जांच

अब आप दिल्ली जल बोर्ड (डीजेबी) पोर्टल पर ऑनलाइन पानी के बिल की जाँच कर सकते है और पेमेंट गेटवे के माध्यम से भुगतान भी कर सकते है। साथ ही DJB द्वारा एक ऐप भी लांच किया गया था जिसकी मदद से आप अपना पानी का बिल खुद तैयार कर सकते है। साथ ही आप बिल खुद बनाने के बाद इसी ऐप के जरिये उसको जमा भी करा सकते है ।

वाटर इमरजेंसी सेंटर करेगा समस्याओं का समाधान

पानी से जुडी दिक्कतों के लिए जगह – जगह पर इमरजेंसी कंट्रोल रूम रोजाना शिकायतों के निवारण के लिए बनाये गए है। इस ऑफिस में स्टाफ है जो शिकायतों के समाधान और निगरानी के लिए रखे गए है।

Tez Tarrar App
यह भी पढ़े:  अब इस हैक को अपनाए, उबर ड्राइवर कैंसिल नहीं कर पायेगा आपकी बुकिंग

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button