कोरोना वायरसदिल्ली

दिल्ली में कोरोना से ज़्यादा है ब्लैक फंगस का क़हर, 952 पर पहुंची एक्टिव केस की संख्या

दिल्ली के अस्पतालों में आ रहे है कोरोना से ज़्यादा ब्लैक फंगस के मामले, फ़िलहाल दिल्ली में ब्लैक फंगस के 952 सक्रिय मामले दर्ज किये गए है।

दिल्ली में 6 जुलाई तक म्युकरमाइकोसिस जिसे ब्लैक फंगस भी कहा जाता है, के 952 एक्टिव केस दर्ज किये गए है। सरकार के आंकड़ों के मुताबिक, राजधानी में  म्युकरमाइकोसिस के मामलों की संख्या कोरोना के मामलों से अधिक है। इसी  के साथ दिल्ली में 6 जुलाई तक ब्लैक फंगस के कुल 1,656 मामले दर्ज हुए थे।

सरकारी डाटा के अनुसार, ब्लैक फंगस के 952 एक्टिव मामलों में से 402 रोगी प्राइवेट अस्पतालों में अपना इलाज करा रहे है। 302 रोगियों का इलाज दिल्ली सरकार द्वारा संचालित अस्पतालों में हो रहा है, जबकि 248 रोगी केंद्र सरकार द्वारा संचालित अस्पतालों में अपना इलाज करा रहे है। इस समय दिल्ली में कोरोनावायरस के 833 एक्टिव केस के मामले है। 12 जुलाई तक कोरोना सक्रिय मामलों की संख्या गिरकर 693 हो गई थी।

Insta loan

सरकार के आंकड़ों के अनुसार, 6 जुलाई तक एम्पफ़ोटेरिसिन बी इंजेक्शन की संख्या 1,50,000 थी। एम्पफ़ोटेरिसिन बी ब्लैक फंगस जैसे घातक इंफेक्शन के इलाज में इस्तेमाल किया जाता है। ब्लैक फंगस के मामले ज़्यादातर कोरोना से ठीक होने वाले लोगो में मिल रहे है। म्युकरमाइकोसिस (ब्लैक फंगस) पोस्ट – कोविड बिमारियों मे से एक है, जिसके मामले पूरे देश भर की विभिन्न जगहों से आ रहे है।

ये भी पढ़े: दिल्ली के 3 और बाजार किये गए बंद, कोविड प्रोटोकॉल्स का हो रहा था उल्लंघन।

Rahil Sayed

राहिल सय्यद तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे हैं। इन्होंने दिल्ली से सम्बंधित बहुत सी महत्वपूर्ण घटनाओं और समाचारों को अपने लेखन में प्रकाशित किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button