दिल्लीदिल्ली एनसीआर

दिल्ली में हो रही है मीट की किल्लत, हो सकती है दामों में बढ़ोतरी

दिल्ली के गाजीपुर बूचड़खाना बंद होने से मीट के दामों में बढ़ोतरी हो सकती है, जहां प्रतिदिन 1500 भैंस व 13500 भेड़ को काटा जा सकता है

देश में बहुत से लोग है जो मीट का सेवन करते है। जिसके चलते मीट का कारोबार हर जगह बहुत ज्यादा मात्रा में देखा जाता है। लेकिन देश की राजधानी दिल्ली में मीट की किल्लत देखने को मिल सकती है जिससे की व्यापारियों और लोगो को परेशानी पहुंच सकती है।

बता दें कि दिल्ली के गाजीपुर बूचड़खाना बंद होने से मीट के दामों में बढ़ोतरी हो सकती है। यह बूचड़खाना 2009 में खुला था जहां प्रतिदिन 1500 भैंस व 13500 भेड़ और बकरियों को काटा जा सकता है। लेकिन दिल्ली नगर निगम के एक अधिकारी के मुताबिक, दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (DPCC) ने राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) के निर्देशों का पालन करते हुए पर्यावरण नियमों का उल्लंघन करने पर 30 मई को बूचड़खाने का बंद करने का आदेश दिया था।

इस वजह से दिल्ली मीट मर्चेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष अरशद अली कुरैशी ने चिंता जताई और बोले कि अगले कुछ दिनों में बूचड़खाना नहीं खुला तो शहर में मांस की कमी हो सकती है। साथ ही इसके कीमतों में बढ़ोतरी भी हो सकती है।

हालाँकि, इसको खोलने कि मांग अधिकारियो को कि गयी है जिससे जल्द से जल्द बूचड़खाना खोला जाए, ताकि लोगों को परेशानी न हो। साथ ही एक अन्य मांस व्यापारी और एसोसिएशन के सदस्य यूनुस कुरैशी का कहना है कि अभी पुराने स्टॉक को ख़तम किया जा रहा है लेकिन बूचड़खाना नहीं खुला तो जल्द ही लोगो को मीट के दामों में बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है।

Madhavgarh Farms
यह भी पढ़े: केजरीवाल सरकार का फैसला, ‘हरिजन’ की जगह ‘डॉ. अंबेडकर’ शब्द का होगा इस्तेमाल

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button