दिल्लीनार्थ वेस्ट दिल्लीसाइबर क्राइम

प्ले ब्वॉय की नौकरी का झांसा देकर करते थे ठगी, सरगना सहित 4 गिरफ्तार

मैसेज में यह भी बताया गया था कि इसके लिए जिन महिलाओं को मसाज देनी है उन महिलाओं से उनका क्लब मुलाकात करवाएगा पीड़ित ने मैसेज में दिए गए एक...

राजधानी दिल्ली में उत्तर पश्चिम जिला साइबर सेल ने जिगोलो (Gigolo) और महिलाओं को मसाज देने का पार्ट टाइम नौकरी देने का झांसा देकर ठगी करने वाले चार जालसाजों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी वेस्ट दिल्ली हरि नगर में फर्जी कॉल सेंटर चलाकर युवाओं को जाल में फसाते थे और अलग अलग सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर अपना विज्ञापन भी देते थे।

दो वर्ष में आरोपी देशभर के लगभग सौ से ज्यादा लोगों से ठगी कर चुके हैं। पकडे गए आरोपियों के पास से सात मोबाइल, एक लैपटॉप, एटीएम कार्ड व अन्य दस्तावेज बरामद हुए हैं। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान सुभाष नगर निवासी उदित मेहता, राजौरी गार्डन निवासी शुभम आहूजा, नेहा छाबड़ा व अर्चना आहूजा के रूप में हुई है।

पुलिस के अनुसार, दिल्ली किंग्सवे कैंप इलाके में रहने वाले दिल्ली पुलिस के एक कर्मचारी के बेटे ने साइबर सेल में ठगी होने की शिकायत की। दी गयी शिकायत में उसने बताया कि उसके व्हाट्सएप (Whatsapp) पर एक अनजान नंबर से मैसेज आया था। मैसेज में लिखा था कि पार्ट टाइम प्ले ब्वॉय (Play Boy) की नौकरी करने के लिए इच्छुक व्यक्ति को हाई प्रोफाइल महिलाओं का बॉडी मसाज करना होगा।

आरोपियों द्वारा किये गए मैसेज में जिगोलो (Gigolo) बनाने का ऑफर दिया गया था। साथ ही मैसेज में यह भी बताया गया था कि इसके लिए जिन महिलाओं को मसाज देनी है उन महिलाओं से उनका क्लब मुलाकात करवाएगा। पीड़ित ने मैसेज में दिए गए एक नंबर पर संपर्क किया। कॉल पर एक महिला ने इसके बारे में पूरी जानकारी दी और फिर इसके बाद पीड़ित को रजिस्ट्रेशन (Registration) के नाम पर 35 सौ रुपए, मसाज किट के नाम पर 12500 रुपए, और क्लब एंट्री कार्ड के लिए 15500 रुपए एक बैंक खाते (Bank Account) में जमा करने के लिए कहा। और इसके अलावा आरोपियों ने होटल में कमरा बुक करने के लिए भी 9400 रुपए वसूल लिए।

जब पीड़ित को ठगी का एहसास होने लगा तो उसने आरोपियों से पैसे वापस मांगे। इसके बाद आरोपी पीड़ित को धमकी देने लगे और ब्लैकमेल करने लगे। पीड़ित की शिकायत पर साइबर सेल (Cyber Cell) ने मामला दर्ज कर लिया। साइबर टीम ने थाना प्रभारी विजेंद्र के नेतृत्व में आरोपियों के मोबाइल नंबर और बैंक खाते (Bank Account) की जांच पड़ताल की।

तकनीकी जांच के दौरान पता चला कि आरोपी दिल्ली हरिनगर में कॉल सेंटर चलाकर ठगी कर रहे हैं। जिला पुलिस उपायुक्त उषा रंगनानी के मुताबिक़ हरिनगर के एक मकान पर दबिश देकर पुलिस ने चारों आरोपियों को मौके से गिरफ्तार कर लिया। जांच के दौरान पता चला कि शुभम आहूजा गैंग का सरगना था। शुभम आहूजा 17 हजार रुपये में किराए पर मकान ले रखा था।

जहां उदित मेहता बतौर मैनेजर और इनके साथ ही दोनों महिलाएं टेलीकॉलर (Telecaller) के तौर पर काम करती थीं। उदित को 20 हजार रुपये और इनके साथ कार्य कर रही महिलाओं को 15 हजार रुपये sallary मिलती थी। आरोपी शुभम आहूजा जिगोलो (Gigolo) और प्ले ब्वॉय (Play Boy) की जॉब के लिए सोशल मीडिया, मैसेज, पोर्न वेबसाइट और साथ ही डेटिंग ऐप्स (Dating Apps) के जरिए विज्ञापन (Advertisment) देता था।

Madhavgarh Farms

यह भी पढ़े: 150 रुपये लूटने का विरोध करने पर युवक की बेरहमी से हत्या

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button