कोरोना वायरसदिल्ली

टीचर्स और स्टाफ के लिए वैक्सीनेशन लगवाना हुआ अनिवार्य, नहीं लगवाई तो हो सकती है छुट्टी

CoronaVirus से जल्द छुटकारा पाने के लिए राजधानी दिल्ली में टीकाकरण का अभियान चलाया जा रहा है, पर कुछ लोग ऐसे भी है जिन्होंने अब तक टिके की पहेली डोज़ नहीं ली है

(CoronaVirus) कोरोना वायरस के मामलों को कम होते देख राजधानी दिल्ली में सामान्य गतिविधियां भी बढ़ गई है, इसी को देखते हुए नर्सरी से 8वीं तक की कक्षाओं को खोला गया था। कोरोना महामारी से जल्द छुटकारा पाने के लिए दिल्ली में टीकाकरण का अभियान चलाया जा रहा है, पर कुछ लोग ऐसे भी है जिन्होनें अब तक टीके की पहली डोज़ भी नहीं ली है।

आपको बता दें कि शिक्षा निदेशालय ने अधिकारीयों को सूचित करने का निर्देश दिया है, कि जिन शिक्षकों और स्कूल के कर्मचारियों ने अभी तक कोविड वैक्सीन का टीका नहीं लगाया है, वो 15 अक्टूबर से पहले कोरोना वैक्सीन का टीका लगवा ले नहीं तो उन्हें स्कूल में आने की अनुमति नहीं दी जाएगी और उनकी अनुपस्थिति को इस्तीफा माना जाएगा।

स्कूल के स्टाफ के लिए वैक्सीनेशन अनिवार्य करने वाला राजधानी दिल्ली पहला राज्य है। वही अभी तक किसी राज्ये ने इस बात पर जोर नहीं दिया है। दरअसल स्कूलों को खुले एक महीना पूरा हो गया है और ऐसे में बच्चों और स्टाफ का मिलना सामान्य बात है। इतना ही नहीं बल्कि बच्चों और स्कूल स्टाफ के लिए दोनों डोज़ लगवाने को अनिवार्य कर दिया गया है।

Tax Partner

ये भी पढ़े: DDMA ने दी दिल्ली में दशहरा और दुर्गा पूजा के आयोजन को मंज़ूरी

Jagjeet Singh

जगजीत सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे हैं। इन्होंने टेक्निकल, विश्व और एजुकेशन से सम्बंधित लेखो को अपने लेखन में प्रकाशित किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button