दिल्ली

Vehicle Challan: सावधान! 90 दिन में चालान नहीं भरा तो लिया जाएगा एक्शन, जाने पूरी डिटेल

ट्रैफिक पुलिस या ट्रांसपोर्ट विभाग के चालान को हल्के में लेना अब बहुत भारी पड़ेगा। अगर आपने अपनी गाड़ी या दोपहिया का चालान समय पर

ट्रैफिक पुलिस या ट्रांसपोर्ट विभाग के चालान को हल्के में लेना अब बहुत भारी पड़ेगा। अगर आपने अपनी गाड़ी या दोपहिया का चालान समय पर जमा नहीं कराया, तो 90 दिन यानी चालान कटने की तारीख से तीन महीने के बाद वाहन पोर्टल पर आपकी गाड़ी को ‘Not to be transacted’ कैटिगरी में डाल दिया जाएगा। उसके बाद आप ना तो गाड़ी की फिटनेस जांच करवा सकेंगे, न पॉल्यूशन जांच करवा सकेंगे, न गाड़ी ट्रांसफर करवा सकेंगे, ना अड्रेस चेंज करवा सकेगे। कुल मिलाकर वाहन पोर्टल से जुड़ी ट्रांसपोर्ट विभाग की जितनी भी सेवाएं है, वे सभी पूरी तरह ब्लॉक हो जाएंगी। जब तक आप चालान का भुगतान नहीं करेंगे, तब तक उन्हें ओपन नहीं किया जाएगा।

विभाग के अधिकारियो ने बताया कि पेडिग चालान में बढ़ोतरी को देखते हुए यह सख्ती की जा रही है। वैसे यह नियम पहले से था, लेकिन पहले यह काम मैनुअल होता था, जिसमें काफी देर हो जाती थी। लेकिन अब यह काम ऑटोमैटिक होगा।

  1. Not to be transacted’ कैटिगरी में होगी गाड़ी।
  2.  फिटनेस और पॉल्यूशन जांच नहीं करवा सकेगे
  3. 6 हज़ार से ज़्यादा पर कार्रवाई
  4. गाड़ी ट्रांसफर और अड्रेस चेज भी नहीं हो सकेगा

अधिकारियों ने बताया कि अब तक 6 हजार से ज्यादा वाहनो को ‘नॉट टु बी ट्रांजेक्टेड’ कैटिगरी में डाला जा चुका है। ये लोग अब वाहन पोर्टल से जुड़ी ट्रासपोर्ट विभाग की सेवाए तभी एक्सेस कर सकेंगे, जब जुर्माना भरेगे। इनमें कई गाड़ियां ऐसी है, जिनका चालान पिछले साल GRAP से जुड़ी पाबंदियों के उल्लघन में कटा था। चालान जमा न करने से जुड़ा डेटा

Accherishtey

ये भी पढ़े: मेट्रो यात्रियों के लिए खुशखबरी! अब लाइन चेंज करने के लिए नहीं चलना पड़ेगा अधिक

Related Articles

Back to top button