ट्रेवलदिल्ली

DDA के फ्लैट्स लेने से क्यों पीछे हटे दिल्ली के निवासी

देश की राजधानी दिल्ली में एक घर खरीदना बेहद मुशकिल काम माना जाता है। अगर फ्लैट्स की बाते करे तो कम दामों में सभी सुविधाओं से लेस एक फ्लैट मिलना बहुत ही मुशकिल है।

देश की राजधानी दिल्ली में एक घर खरीदना बेहद मुशकिल काम माना जाता है। अगर फ्लैट्स की बाते करे तो कम दामों में सभी सुविधाओं से लेस एक फ्लैट मिलना बहुत ही मुशकिल है। इसका नतीजा ये निकला कि राजधानी में हज़ारो अनधिकृत कॉलोनियां बन गयी। पिछले एक दशक से DDA ने फ्लैट आवंटित करने का सिलसिला शुरू किया। काफी संख्या में लोगों ने अपने सपनों का घर पा भी लिया, लेकिन सुविधाएं ना होने के कारण चार योजनाओं में करीब 40 फीसदी लोगों ने उनकी दहलीज तक नहीं लांघी
और DDA को फ्लैट वापस कर दिए।

DDA के अधिकतर फ्लैट्स नई दिल्ली इलाके से काफी दूर है जिसके कारण अवन्ति ये फ्लैटस लेने को त्यार नहीं होते। DDA के अधिकतर फ्लैटस द्वारका, मंगलापुरी, बक्करवाला, रोहिणी, नरेला, सिरसपुर, जसोला, वसंत कुंज आदि स्थानों पर हैं। इनमें अधिकतर वह इलाके हैं, जो नई दिल्ली से काफी अधिक दूर हैं। इसके अलावा नरेला, बक्करवाला, सिरसपुर में वीरान जगह पर फ्लैट बने हुए हैं।

इन अंदर के इलाको में ना तो बस, मेट्रो आदि कि सेवा है और ना ही आस पास कोई बाजार जिसके कारण लोग ये फ्लैट्स लेकर ना खुश रहते है। इन इलाको में रात में ही नहीं बल्कि दिन में भी वारदात होने कि आशंका रहती है।

2014 में 40 फीसदी ने वापस किए
DDA ने वर्ष 2014 में लोगों का आवास उपलब्ध कराने के लिए करीब 25 हजार फ्लैट आवंटित करने की योजना जारी की थी। इसके तहत एक लाख से अधिक लोगों ने आवेदन किए, लेकिन ड्रॉ निकलने के करीब दो माह के अंदर करीब 40 फीसदी यानी 11 हजार लोगों ने फ्लैट लौटा दिए।

2017 में 6 हजार लोगो ने वापस किए
DDA ने वर्ष 2017 में 13 हजार फ्लैट आवंटित करने का निर्णय लिया। यह अधिकतर फ्लैट नरेला, रोहिणी, सिरसपुर आदि इलाके में हैं। इन्हें लेने में 6 हजार आवंटियों ने कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई। क्योंकि, ये जर्जर होने के साथ काफी दूर हैं। वीरान इलाके में होने के कारण लोगों ने इन्हें लौटा दिया था।

2019 में 4 हजार लोगो ने फ्लैट वापस किए
DDA ने वर्ष 2019 की आवासीय योजना के तहत 8400 फ्लैटों का ड्रॉ निकाला था। फ्लैट मिलने के बाद करीब 4 हजार लोगों ने लौटा दिए। इन लोगों ने महज 20 दिन में फ्लैट वापस करने के लिए DDA के पास आवेदन कर दिया था।

Insta loan services

इस साल भी लोग पीछे हटे
DDA ने इस साल आवास योजना-2021 में 1354 फ्लैट शामिल किए थे, लेकिन सभी नहीं बिके। ये सभी फ्लैट लोगों को आवंटित कर दिए गए थे। इस योजना के तहत 694 लोगों ने वापस कर दिए। आवंटितियों को इस योजना में शामिल द्वारका सेक्टर-19 में बने MIG फ्लैट भी पसंद नहीं आए।

 

ये भी पढ़े: युवक ने बेहरमी से की पत्नी की हत्या, थाने में जाकर कबूला जुर्म

 

Aanchal Mittal

आँचल तेज़ तर्रार न्यूज़ में रिपोर्टर व कंटेंट राइटर है। इन्होने दिल्ली के सोशल व प्रमुख घटनाओ पर जाकर रिपोर्टिंग की है व अपनी कवरेज में शामिल किया है। आम आदमी की समस्याओ को इन्होने अपने सवालो द्वारा पूछताछ करके चैनल तक पहुँचाया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button