दिल्ली

जाने क्यों सिंघु बॉर्डर के ग्रामीणों ने किसान आंदोलनकारियों के खिलाफ निकाला पैदल मार्च

ग्रामीणों को रोज़मर्रा की ज़िन्दगी में करना पड़ रहा है कई परेशानियों का सामना, किसान आंदोलन के खिलाफ निकाली पैदल यात्रा

हरियाणा के सोनीपत जिले के सिंघु बॉर्डर पर तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का आंदोलन लगातार जारी हैं। सिंघु बॉर्डर के आसपास के गांवों के लोग, मार्केट एसोसिएशन और पेट्रोल पंप एसोसिएशन किसानों द्वारा NH बंद किए जाने से काफी परेशान हैं। इसके चलते आज सोनीपत जिले के 30 गांव, मार्केट एसोसिएशन और  पेट्रोल पम्प एसोसिएशन से जुड़े लोगों ने सिंघु बॉर्डर पर बैठे किसानों के खिलाफ पैदल मार्च निकाला।

पैदल मार्च करने वाले लोगों की मांग है कि किसान जीटी रोड को एक तरफ से खाली कर दे, ताकि उन्हें दिल्ली जाने में परेशानी न हो। दरअसल, किसान आंदोलनकारियों के खिलाफ पैदल मार्च करने वालों के अनुसार तकरीबन 8 महीने से किसान कृषि कानूनों के खिलाफ सिंघु बॉर्डर के जीटी रोड पर बैठ कर प्रदर्शन कर रहे हैं। साथ ही लोगों ने यह भी बताया कि किसान और सरकार दोनों से बात की गई लेकिन किसी ने उनकी नहीं सुनी जिसकी वजह से उन्हे महीनों से दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। 

एक ओर जहां स्थानीय लोगों ने आंदोलनकारियों से एक तरफ का रूट खोलने की मांग कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ पुलिस पर आरोप लगाया कि पुलिस लोगों को रोक रही है और पैदल मार्च में शामिल होने नहीं दे रही है।

Aadhya technology

स्थानीय लोगों को दफ्तरों में आने-जाने में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस दौरान कुछ ऐसे लोग भी सामने आए जो किसान आंदोलन का पिछले 8 महिने से समर्थन कर रहे थे। लेकिन अब उन लोगों को भी आंदोलनकारियों की वजह से कई तरह की परेशानी उठानी पड़ रही है।   

ये भी पढ़े:- दिल्ली: इको वैन पर पलटा कंटेनर आफत में फंसी कई लोगों की जान

Vasundhra Tyagi

वसुंधरा त्यागी कंटेंट मार्केटिंग और राइटिंग की फील्ड में करीब 2 साल से कार्यरत हैं। वर्तमान में तेज़ तर्रार मीडिया में बतौर राइटर और एडिटर अपना रोल निभा रही हैं। इन्होंने दिल्ली से जुड़े कई मुद्दों और आम आदमी की समस्याओं को अपने लेख में प्रकाशित कर सम्बंधित अधिकारियों और विभागों का ध्यान इन समस्याओं की और केंद्रित करवाया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button