अपराधदिल्लीनार्थ दिल्ली

नंद नगरी इलाके में युवक की सरेराह चाकू मारकर हत्या, तीन गिरफ्तार

मृतक के परिजनों का आरोप था कि वारदात को जेल में मोहसिन व कासिम के इशारे पर अंजाम दिया गया है। करीब दो साल पहले इन दोनों ने मनीष पर जानलेवा...

राजधानी दिल्ली के नंद नगरी इलाके में डीएम कार्यालय के पास शनिवार की शाम एक युवक की सरेराह चाकू मारकर हत्या कर दी गई। मृतक की शिनाख्त दिल्ली के सुंदर नगरी निवासी मनीष के रूप में हुई। हत्या की खबर के बाद इलाके में तनाव उत्पन्न हो गया।

कुछ शरारती तत्वों ने घटना को सांप्रदायिक रंग देने का प्रयास किया। कुछ ही देर बाद दोनों समुदाय आमने-सामने आ गए और जमकर नारेबाजी की गई। सुचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने हालात को संभाला और बाद में दोनों समुदाय के लोगों को वापस भेज दिया। फिलहाल खबर लिखे जाने तक एरिया में तनाव का माहौल था। पुलिस के अलावा अर्द्धसैनिक बलों को भी मौके पर तैनात कर दिया गया था और वरिष्ठ पुलिस अधिकारी खुद मौके पर मौजूद थे।

हत्या के मामले में पुलिस ने देर रात को ही तीन लड़कों आलम, बिलाल व फैजान को हिरासत में ले लिया। पुलिस अधिकारियों के अनुसार पुरानी रंजिश में वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस मामला दर्ज कर हर दृष्टिकोण से मामले की जांच में जुटी है।

जानकारी के मुताबिक़, शनिवार देर रात को पुलिस को सूचना मिली कि दिल्ली के नंद नगरी डीएम कार्यालय के पास कुछ लड़कों ने एक युवक को चाकू मार दिया है। खबर मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और स्थानीय लोगों ने मनीष को हॉस्पिटल में भर्ती कराया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। जैसे स्थानीय लोगों की मनीष की मौत की सुचना मिली। वह सड़क पर उतर आए।

मृतक मनीष के परिजनों का आरोप था कि इस वारदात को जेल में मोहसिन और कासिम के इशारे पर अंजाम दिया गया है। करीब दो साल पहले इन दोनों ने मनीष पर जानलेवा हमला कर उसकी हत्या का प्रयास किया था। और उस समय मृतक मनीष ने दोनों पर केस दर्ज करवाया था। पिछले कुछ दिनों से मृतक मनीष को केस वापस लेने की धमकियां मिल रही थीं और केस वापस न लेने पर मनीष को जान से मारने की बात की जा रही थी।

हत्या को दिया सांप्रदायिक रंग मनीष की मौत के बाद कुछ लोगों ने घटना को सांप्रदायिक रंग दे दिया और इसके बाद एक समुदाय के लोगों ने दिल्ली नंद नगरी मुख्य सड़क पर आकर नारेबाजी शुरू कर दी। दूसरे समुदाय के लोग भी वहां पहुंच गए। हालात को देखते हुए तुरंत पुलिस बल मौके पर भेजा गया।

लोगों को समझा-बुझाकर वापस भेजने का प्रयास किया गया लेकिन लोग काफी गुस्से में थे। इन लोगों ने सड़क पर काफी देर जाम भी लगाए रखा। देर रात को जिला पुलिस उपायुक्त घटना स्थल पर खुद मौजूद थे। पुलिस ने स्थानीय लोगों को तीन लड़कों के पकड़े जाने की सुचना दी तो इसके बाद लोगों का गुस्सा शांत हुआ।

Anupama Musical Events

यह भी पढ़े: महिला ने बेटियों के साथ ट्रेन के सामने लगाई छलांग, घर पर मिला सुसाइड नोट

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button