दिल्लीदिल्ली एनसीआरशिक्षा

इस दिन से शुरू होने वाले है दिल्ली नर्सरी एडमिशन! जानें एडमिशन पर ये सारी अपडेट

स्कूलों को 20 नवंबर तक एडमिशन क्राइटेरिया और उनके मार्क्स ऑनलाइन के ही मॉड्यूल पर अपलोड करने के लिए कहा गया है

दिल्ली में अब नर्सरी एडमिशन प्रक्रिया जल्द शुरू होने वाली है और जनरल कैटेगरी के छात्रों के लिए ही अब प्राइवेट स्कूलों में नर्सरी, KG और कक्षा 1 में प्रवेश के लिए रजिस्ट्रेशन 23 नवंबर से शुरू होने वाले है। जिसके चलते शिक्षा निदेशालय की अधिसूचना के लिए एडमिस फॉर्म जमा करने की आखिरी तारीक 15 दिसंबर रखी गयी है। वही आने वाले साल की पहली एडमिशन लिस्ट ही 12 जनवरी 2024 को सीधा जारी हो जाएगी।

बता दें कि स्कूलों को 20 नवंबर तक एडमिशन क्राइटेरिया और उनके मार्क्स ऑनलाइन के ही मॉड्यूल पर अपलोड करने के लिए कहा गया है और अगर आवेदकों के बीच समानता है, तो अभिभावकों की मौजूदगी में ही एक रेंडम ड्रा या कम्प्यूटरीजाइज्ड मोड से या ड्रॉ स्लिप निकालकर ही ड्रा का वीडियो रिकॉर्ड किया जाएगा और स्कूल फुटेज को अपने पास ही उसे रखेगा।

इसके बाद पहली एडमिशन लिस्ट जारी होने के बाद ही स्कूल 13 जनवरी से लेकर 22 जनवरी 2024 तक अभिभावकों के प्रश्नों के समाधान के लिए उस समय उपलब्ध रहेंगे। साथ ही अधिसूचना में बताया गया है कि पेरेंट्स मैन्युअल आवेदन के ही माध्यम से सीधा आयु में छूट पाने के लिए स्कूल हेड या प्रिंसिपल से अब संपर्क कर सकते हैं।

रिजर्व सीटें

हालाँकि, एडमिट फॉर्म के साथ ही अब प्रॉस्पेक्टस खरीदना जरूरी नहीं है और माता-पिता से ही रजिस्ट्रेशन फीस के रूप में सिर्फ 25 रुपये ही लिया जा सकता हैं। वही प्राइवेट स्कूलों में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग यानी EWS, वंचित समूह (DG) के छात्रों और उन्ही के साथ दिव्यांग बच्चों के लिए 25% सीटें आरक्षित हैं और इन कैटिगिरी के लिए विशेष रूप से एक अलग सूची भी जारी की जाएगी।

इन डाक्यूमेंट्स कि जरूरत

  • बच्‍चे का पासपोर्ट आकार का फोटो
  • एड्रेस प्रूफ
  • बच्‍चे का बर्थ सर्टिफिकेट जरूरी
  • बच्‍चे का आधार कार्ड जरूरी
  • पैरेंट या गार्जियन का पासपोर्ट के आकार का फोटो
  • बच्‍चे के साथ पैरेंट्स का भी फैमिली फोटोग्राफ

Accherishtey

ये भी पढ़े: मेट्रो यात्रियों के लिए खुशखबरी! अब लाइन चेंज करने के लिए नहीं चलना पड़ेगा अधिक

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Back to top button