मनोरंजनलाइफस्टाइल

क्या होती है Surrogacy जिससे Priyanka Chopra बनी माँ, जाने भारत में क्या है नियम

बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा मां बन गई है। प्रियंका चोपड़ा ने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में खुद इस बात को शेयर किया है

बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा मां बन गई है। प्रियंका चोपड़ा (Priyanka Chopra) ने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में खुद इस बात को शेयर किया है। आपको बता दें कि निक जोंस और प्रियंका को माता-पिता बनने का सौभाग्य सरोगेसी (Surrogacy) के जरिए मिला है।

आईये आपको बताते है की सरोगेसी क्या है और भारत में इसके क्या नियम है। बच्चा पैदा करने के लिए कपल किसी दूसरी महिला की कोख को किराये पर लेते है। इस प्रक्रिया को सरोगेसी कहा जाता है। इसमें महिला अपने या फिर डोनर के एग्स के जरिये किसी दूसरे कपल के लिए प्रेगनेंट होती है।

बता दें कि सरोगेसी से बच्चा पैदा करने के पीछे कई सारी वजह होती है जैसे की कपल की कोई मेडिकल से जुडी समस्या और गर्भधारण से महिला की जान को खतरा या कोई दिक्कत होने की संभावना होती है।

बच्चे की चाह रखने वाले लोगों और सरोगेट मदर के बिच एक अग्रीमेंट किया जाता है। जिसके तहत पैदा होने वाला बच्चा कानूनी तौर पर सरोगेसी करने वाले कपल का होता है जानकरी के मुताबिक सरोगेसी 2 प्रकार की होती है एक ट्रेडिशनल सरोगेसी जिसमे पिता या डोनर का स्पर्म सरोगेट मदर के एग्स से मैच कराया जाता है।

और दूसरी जेस्टेशनल सरोगेसी जिसमें सरोगेट मदर का बच्चे से संबंध जेनेटिकली नहीं होता है। यानी प्रेग्नेंसी में सरोगेट मदर के एग का इस्तेमाल नहीं होता है।

भारत में सरोगेसी के नियम

भारत में जयादातर गरीब महिलाये आर्थिक दिक्कतों की वजह से सरोगेट मदर बनती थी। लेकिन सरकार ने 2019 में कॉमर्शियल सरोगेसी पर प्रतिबंध लगा दिया था। इसी के साथ कॉमर्शियल सरोगेसी पर रोक लगाने के बाद अल्ट्रस्टिक सरोगेसी को लेकर भी नियम-कायदों को सख्त कर दिया गया था।

हालांकि, सरोगेसी रेगुलेशन बिल 2020 में कई तरह के सुधार किए गए। इसमें किसी भी ‘इच्छुक’ महिला को सरोगेट बनने की अनुमति दे दी गई थी।

radhey krishna auto

ये भी पढ़े: Salman Khan के फार्महाउस में गड़ी है कई लाशें, पड़ोसी ने लगाया आरोप

Jagjeet Singh

जगजीत सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे हैं। इन्होंने टेक्निकल, विश्व और एजुकेशन से सम्बंधित लेखो को अपने लेखन में प्रकाशित किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button