दिल्लीदेशमनोरंजन

अंग्रेजी कहानी क्यों अडॉप्ट करते हैं विशाल भारद्वाज, चार्ली चोपड़ा पर बात करते हुए खोले कई राज़

उन्होंने कहा कि अडॉप्टेशन में उन्हें बनी बनाई कहानी मिल जाती हैं। उन्होंने बस अपना सेटिंग्स ढूंढने और किरदार को अपना बनाने की जरुरत पड़ती हैं।

विशाल भारद्वाज जाने-माने हिंदी फिल्म मेकर है। लीक से हटकर फिल्म बनाने वाले मेकर्स की फेहरिस्त में उन्होंने अपना नाम बनाया। मशहूर फिल्म मेकर, कवि और गीतकार गुलज़ार उनके प्रेरणास्त्रोत रहे हैं। विशाल भारद्वाज ने अपना फ़िल्मी सफर गुलज़ार के साथ मिलकर छोटे पर्दे पर द जंगल बुक, एलिस इन वंडरलैंड और गुब्बारे के साथ शुरु किया था।

उन्होंने द जंगल बुक के प्रसिद्ध गीत ‘चड्डी पहन के फूल खिला है’ के लिए संगीत भी दिया था। और बाद में जाकर उन्हें गुलज़ार के निर्देशन में बनी फिल्म माचिस के लिए संगीत बनाने का मौका मिला।

इसके बाद तो विशाल भारद्वाज ने अपना एक जॉनर ही खड़ा कर दिया। उन्होंने ओमकारा, मकबूल, 7 खून माफ़, दस कहानियां, हैदर, इश्किया और डेढ़ इश्किया जैसी फ़िल्में बनाई। उनके द्वारा बनाई गई, अधिकांश फिल्मों में अडॉप्टेशन बहुत ही कॉमन बात हैं। अडॉप्टेशन के प्रति अपने लगाव और प्रेम के बारे में उन्होंने कहा कि अडॉप्टेशन में उन्हें बनी बनाई कहानी मिल जाती हैं। उन्होंने बस अपना सेटिंग्स ढूंढने और किरदार को अपना बनाने की जरुरत पड़ती हैं।

उन्होंने कहा कि मैं अच्छा डायरेक्ट कर लेता हूँ। स्क्रिप्ट भी अच्छी लिख लेता हूँ और डायलॉग्स भी। इसका कारण उन्होंने स्वयं को आलसी होना बताया और कहा कि अडॉप्टेशन फिल्म मेकिंग को सरल बना देता हैं।

विशाल भारद्वाज की 'चार्ली चोपडा' का रोंगटे खड़े कर देने वाला ट्रेलर हुआ  रिलीज: Charlie Chopra Trailer

हाल ही में Agatha Christie के रहस्मयी उपन्यास The Sittaford Mystery पर आधारित टीवी सीरीज चार्ली चोपड़ा के रूपांतरण पर बात करते हुए, उन्होंने कहा कि ‘हू डन इट’ जॉनर में हमेशा से उनकी दिलचस्पी रही है, जिसमें एक हत्या होती है और कई सस्पेक्ट मौजूद होते हैं। उन्हीं में से एक हत्यारा होता है। इस जॉनर की क़्वीन अगाथा क्रिस्टी की कहानियां उन्होंने बचपन से ही पढ़ी हैं। अगाथा क्रिस्टी ने ही इस जॉनर की शुरआत की है।

Accherishteyये भी पढ़े: G20: दिल्ली पुलिस की वर्दी पर G20 के सफलता की प्रशस्ति डिस्क, थाने में ड्यूटी देने वाले कर्मी हुए खफा

Related Articles

Back to top button