फैक्ट्स

क्या आप जानते है सिलेंडर के उप्पर लिखे अंको को का मतलब ?

आपने बहुत सुने होंगे जिसमे गैस लीक होना या सिलेंडर फटना ज्यादा तर देखे जातें है। लेकिन आप सब एक बात बहुत कम ही जानते होंगे की आप इन सब चीज़ो को होने से रोक सकते है

घर पर रखे सिलेंडर के नुकसान आपने बहुत सुने होंगे जिसमे गैस लीक होना या सिलेंडर फटना ज्यादा तर देखे जातें है। लेकिन आप सब एक बात बहुत कम ही जानते होंगे की आप इन सब चीज़ो को होने से रोक सकते है, जानिए कैसे।

सिलेंडर सभी के घरो में इस्तेमाल होने वाली चीज़ है जिससे की किचन में खाना बनाया जाता है। कभी आपने सिलेंडर पर लिखे अक्षरों (B।24 )को पहचाना है की यह क्या दर्शाता है । यह होता है सिलेंडर का एक्सपाइरी डेट जो हर सिलेंडर पर अलग तरीके से लिखा होता है। इस एक्सपायरी के बाद सिलेंडर गैस का प्रभाव ज्यादा सेहेन नहीं कर पातें और उसकी वजह से सिलेंडर फटने के बहुत से केस देखे जातें है।

अभी भी बहुत से लोग होंगे जिन्हे इस चीज़ के बार इतना नहीं पता होगा। इसे उदाहरण के तौर पर समझाया जाए तो यह डेट सिलेंडर के उप्पर के हिस्से पर लिखी होती है। उसकी शुरुवात A , B, C, D से होती है और उसके बाद 22 , 24 ऐसी तारीख लिखी होती है । यह एल्फाबेट 3 -3 करके 12 महीने को रिप्रेजेंट करते है, साथ ही दिए गए नंबर साल को रिप्रेजेंट करते है।

आपको बता की गैस सिलेंडर 15 साल तक ही चल सकते है और इस प्रक्रिया में गैस एजेंसी सिलेंडर को 2 बारी चेक करती है। पहली टेस्टिंग ५ साल के बाद और दूसरी 10 साल के बाद। यह सारी जानकारी आपके गैस सिलेंडर में लिखी जाती है और अगर यह दोनों ही डेट आपकी निकल चुकी है तो आपको वो सिलेंडर लेने से साफ़ मना करना है ताकी आप नुकसान से बच सके। अब अगली बार आप कोई भी सिलेंडर ले तो इस जानकारी को ध्यान में रखकर खरीदे।

Aadhya technology
यह भी पढ़े: आयकर विभाग ने जारी किए नए ITR Forms, जानिए आपको कौन सा भरना होगा

 

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Leave a Reply

Back to top button