देश

पांच बजे बाजार बंद कराने से नाराज़ व्यापारियों ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

लगातार बढ़ रहे कोरोना (Corona) और ओमीक्रॉन (Omicron) के केस के चलते सरकार की और से बाजार में लगाई गई पाबंदियों और पांच बजे दुकाने बंद करने का आदेश व्यापारिओं को रास नहीं आ रहा है

लगातार बढ़ रहे कोरोना (Corona) और ओमीक्रॉन (Omicron) के केस के चलते सरकार की ओर से बाजार में लगाई गई पाबंदियों और पांच बजे दुकाने बंद करने का आदेश व्यापारिओं को रास नहीं आ रहा है।

व्यापारी संघठन पाबन्दी के खिलाफ विरोध जताने के बाद सोमवार को एकजुट होकर लघु सचिवालय पहुंचे और व्यापारिक प्रतिष्ठान की समय अवधि बढ़ाने की मांग करि।

इस बैठक के दौरान व्यापारिओं ने भरोसा दिलाया कि वो कोरोना से जुड़े हर नियमो का पालन करेंगे लेकिन प्रतिष्ठानों को बंद करना स्वीकार नहीं करेंगे। इसके अलावा व्यापार मंडल के प्रधान संजय सिंगला का कहना है कि करीब 2 साल से व्यापारिओं को नुकसान झेलना पड़ रहा है।

सोनीपत के व्यापारिओं का कहना है कि पहले जाट आरक्षण, फिर कोरोना, फिर किसान आंदोलन, फिर पर्यावरण को देखते पाबंदी और अब कर्फ्यू की वजह से परेशान है।

व्यापारिओं ने कहा कि अगर ऐसे ही चलता रहा तो हमारी परेशानियाँ और बढ़ जाएँगी। उन्होंने यह भी कहा कि हमको भी बंद के दौरान पैकज मिलने चाहिए जैसे की बैंक में ब्याज माफ़, बिजली बिल माफ़, बच्चों की फीस माफ़ और दुकान का किराया माफ़ होना चाहिए।

इस मोके पर आईसीएस कोचिंग सेंटर के संचालक परिमल कुमार ने कहा कि एक तरफ राजनैतिक कार्येकर्म हो रहे है और दूसरी तरफ बच्चों को पढ़ाई से वंचित किया जा रहा है और विद्यार्थी इससे काफी नाराज़ नज़र आ रहे है।

Tax Partner

ये भी पढ़े: Omicron Corona महामारी के एक-दो महीने में खत्म होने के मिले संकेत

Jagjeet Singh

जगजीत सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे हैं। इन्होंने टेक्निकल, विश्व और एजुकेशन से सम्बंधित लेखो को अपने लेखन में प्रकाशित किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button