देशराजनीति

लोकसभा में पारित हुआ केंद्रीय विश्वविद्यालय संशोधन विधेयक-2023

सम्‍मक्‍का-सरक्‍का केंद्रीय जनजातीय विश्‍वविद्यालय का नौ सौ करोड़ रुपए की लागत से होगा निर्माण: केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेन्‍द्र प्रधान

 

लोकसभा ने केंद्रीय विश्वविद्यालय संशोधन विधेयक-2023 को मंजूरी दी है। इसमें केंद्रीय विश्वविद्यालय अधिनियम 2009 में संशोधन का प्रावधान है, जो शिक्षा और अनुसंधान के क्षेत्र में केंद्रीय विश्वविद्यालयों की स्थापना से जुड़ा है। इस विधेयक में तेलंगाना के लिए ‘सम्‍मक्‍का-सरक्‍का’ नामक केंद्रीय जनजातीय विश्वविद्यालय की स्थापना का प्रावधान है। इससे भारतीय जनजाति को उच्च शिक्षा और अनुसंधान की विभिन्न सुविधाएं मिलेंगी।

 

विधेयक पर बहस के दौरान, केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने बताया कि ‘सम्‍मक्‍का-सरक्‍का’ का निर्माण लगभग 900 करोड़ रुपये में किया जाएगा। इसके लिए तेलंगाना सरकार ने उपलब्ध भूमि की देरी की है, जिसकी वजह से निर्माण में विलम्ब हुआ है।

 

भाजपा सांसद राजीव प्रताप रूड़ी ने बताया कि विश्वविद्यालयों को छात्रों को रोजगार सक्षम बनाने के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने की जरूरत है। कांग्रेस के सुरेश ने मांग की कि अनुसूचित जातियों और जनजातियों के लिए उच्चतर शिक्षा संस्थानों में रिक्तियां भरी जाएं।

 

शिवसेना के राहुल शेवाले ने विधेयक का समर्थन किया और इससे क्षेत्रीय आकांशाओं को पूरा करने में मदद मिलेगी। उन्होंने पिछड़े और अनुसूचित जाति-जनजातियों के कल्याण के लिए कदम उठाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना की। नेशनल कॉन्फ्रेंस के हसनैन मसूदी ने भी विधेयक का समर्थन किया।

Accherishtey

Related Articles

Back to top button