दिल्लीदेश

विवादों में घिरी नूपुर शर्मा को मिली दिल्ली पुलिस से सुरक्षा, जान से मारने की मिली थी धमकी

नूपुर और उसके परिवार को धमकिया दी गयी है और उसी के चलते उन्होंने दिल्ली पुलिस से सुरक्षा मांगी है और उनको सुरक्षा प्रदान की गयी है

विवादों में चल रही नूपुर शर्मा को आपने एक बयान के बाद बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। दरअसल, मुद्दा यह है कि नूपुर शर्मा जो BJP की नेशनल स्पोकपर्सन है उन्होंने पैगंबर मोहम्मद पर एक टिप्पणी करी जिसका विवाद अभी थमने का नाम नहीं ले रहा है। जिसकी वजह से नूपुर और उसके परिवार को धमकिया भी दी गयी है और उसी के चलते उन्होंने दिल्ली पुलिस से सुरक्षा मांगी है और उनको सुरक्षा प्रदान भी की गयी है।

बता दें कि नूपुर शर्मा ने एक टीवी डिबेट में पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी करी थी जिसके बाद वो विवाद बढ़ चूका है। इतना ही नहीं यह विवाद इतना बढ़ गया कि बहार के अरब देश भी इस टिपणी कि निंदा कर रहे है और इन सबके चलते ही बीजेपी द्वारा उनको ससपेंड भी कर दिया गया है।

इसकी सूचना बीजेपी द्वारा पत्र में दी गयी जहां नूपुर सिंह द्वारा इस तरह की टिप्पणी मूल विचार के विरोध में है। साथ ही नूपुर शर्मा ने अपनी टिप्णणी को लेकर माफी मांगी। उन्होंने कहा ‘मैं अपने शब्द वापस लेती हूं, मेरी मंशा किसी को ठेस पहुंचाने की नहीं थी, अगर मेरे शब्दों से किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है मैं अपने शब्द वापस लेती हूं।’

तथाकथित आतंकी संगठन ने दी धमकी

इतना ही नहीं नूपुर शर्मा को विवादों के बाद एक आतंकी संगठन से धमकी मिली है। दिल्ली के गाजीपुर में IED मिलने की जिम्मेदारी लेने वाले तथाकथित आतंकी संगठन Mujahideen Ghazwatul Hind ने पोस्टर जारी कर कहा, ‘नूपुर शर्मा ने पहले प्रोफेट साहब की शान में गुस्ताखी की और अब माफी मांग रही है, डबल स्टैंडर्ड अपनाते हुए बीजेपी चाणक्य की नीति पर चलते हुए चालबाजी कर रही है। हम नुपुर शर्मा को हम हिदायत देते हैं की वो बयान वापस लेते हुए पूरे विश्व से माफी मांगे वरना हम वही करेंगे, जो प्रोफेट साहब की शान में गुस्ताखी करने वालों के साथ किया जाता है।’

Tax Partner
यह भी पढ़े: पाकिस्तान से आने वाली गर्म हवाएं बनी राजधानी में भीषण गर्मी और लू का कारण

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button