देश

पति पत्नी के लिए आए कोर्ट के बड़े फैसले, अभी जान लें

पति पत्नी को लेकर सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट ने कुछ ऐसे बड़े फैसले सुनाए है। जिन्हें जान लेना बेहद जरूरी है।

पति पत्नी को लेकर सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट ने कुछ ऐसे बड़े फैसले सुनाए है। जिन्हें जान लेना बेहद जरूरी है।

  1. दिल्ली हाई कोर्ट का कहना है कि घरेलू हिंसा अधिनियम के तहत पति से अलग होेने पर भी पत्नी को ससुराल में रहने का हक है, लेकिन इस नियम में ये भी कहा गया है कि अपने सांस ससुर के साथ पत्नी गुस्सा नहीं दिखा सकती। साथ ही सास ससुर को हक है कि अगर पति पत्नी आपस में ज्यादा ही झगड़ा करते है तो वो उन्हें घर से निकाल सकते है।
  2. पत्नी के शरीर या आत्मा का मालिक नहीं होता है पति। अगर पति ने जोर- जबरदस्ती की तो वो रेप के मुकदमे से नहीं बच सकता है। आपकों बता दे कि बलात्कार करने वाला पति, आईपीसी की धारा 376 के तहत सज़ा का हकदार होगा।
  3. पत्नी दफ्तर में बार- बार फोन करके पति की पूछताछ करे तो मानसिक क्रूरता मानी जाएगी। इसी को लकर, ऐसें ही एक मामले पर हाई कोर्ट ने तालाक भी मंजूर कर दिया है।
  4. यह नियम फैमिली कोर्ट एक्ट के तहत माना जाएगा। इसमें ससुराल पक्ष के साथ सभी लेन- देन। वैवाहिक संबधो से पैदा परिस्थतियों के रूप में नही माना जा सकते।
  5. पति सुदंर नहीं है यह कहकर अगर मायके चली जाती है पत्नी। या फिर अपने जीवनसाथी में कोई कमी निकालकर कोई भी संबंध बनाने से मना कर दिया जाता है। तो यह करूरता के बराबर माना जाएगा।

Aanchal Mittal

आँचल तेज़ तर्रार न्यूज़ में रिपोर्टर व कंटेंट राइटर है। इन्होने दिल्ली के सोशल व प्रमुख घटनाओ पर जाकर रिपोर्टिंग की है व अपनी कवरेज में शामिल किया है। आम आदमी की समस्याओ को इन्होने अपने सवालो द्वारा पूछताछ करके चैनल तक पहुँचाया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button