अपराधदिल्लीदेश

16 करोड़ की धोखाधड़ी में डॉक्टर भाई व इंजीनियर बहन गिरफ्तार

आर्थिक अपराध शाखा ने 16 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी के मामले में भाई-बहन को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार भाई दिल्ली के एम्स से एमबीबीएस कर चुका है

आर्थिक अपराध शाखा ने 16 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी के मामले में भाई-बहन को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार भाई दिल्ली के एम्स से एमबीबीएस कर चुका है और बहन साफ्टवेयर इंजीनियर है। मुख्य आरोपी ने शिकायतकर्ता के साथ एप (APP) आधारित एक कारोबार शुरू किया और फिर फर्जीवाड़ा करने के बाद शिकायतकर्ता के शेयर को कम दाम में बेचकर उन्हें कंपनी से निकाल दिया जिससे निदेशक को 16 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ।

शाखा की विशेष आयुक्त रविंद्र यादव के मुताबिक गिरफ्तार आरोपियों की पहचान पंचशील एन्कलेव निवासी चेरियन व बेंगलुरु निवासी मीनाक्षी के रूप में हुई है। वर्ष 2021 में नोएडा सेक्टर 134 निवासी डॉक्टर गंधर्व गोयल ने शाखा में आरोपी भाई बहन के खिलाफ शिकायत की थी। जिसमें दोनों आरोपियों पर फर्जी हस्ताक्षर लेकर उनके शेयर को नौ सौ रुपये में खरीद लेने और इसके बाद में उसे 16 करोड़ रुपये में नए निवेशकों को बेचने का आरोप लगाया है।

पीड़ित ने बताया कि वह और चेरियन ने दिल्ली के एम्स से एमबीबीएस (MBBS) की पढ़ाई की थी। दोनों ने सिनैप्सिका टेक्नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड नाम की एक कंपनी खोली। जिसका कार्यालय जसोला में है और चेरियन की बहन मीनाक्षी सिंह भी सॉफ्टवेयर विकसित करने की दृष्टि से कंपनी में शामिल हुईं थी। साफ्टवेयर का काम बिना रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर के सी.टी. स्कैन, एक्स-रे और साथ में एमआरआई का रिपोर्ट तैयार करना था लेकिन बाद में मीनाक्षी कंपनी का शेयरधारक बन गई।

वर्ष 2019 दिसंबर में कंपनी वाई-कॉम्बिनेटर में चयनित हो गई और फिर निवेशकों ने कंपनी में पांच करोड़ रुपये का निवेश किया था। अमेरिका (America) में कारोबार को बढ़ाने के लिए सिनैप्सिका हेल्थकेयर इंक के नाम से एक कंपनी खोली गई। पुलिसल की जांच के दौरान पता चला कि चेरियन व मीनाक्षी ने अपनी कंपनी में ज्यादा निवेशकों को आकर्षित करने के लिए यूएस में कंपनी बनाई और फिर बाद में कंपनी मेसर्स सिनैप्सिका हेल्थकेयर इंक के जरिए गंधर्व गोयल के जाली हस्ताक्षर लेकर हिस्सेदारी खरीद ली।

पुलिस ने बुधवार को दोनों आरोपी भाई बहन को वाइल्ड रॉक रिजॉर्ट, डिंडीगुल, तमिलनाडु से गिरफ्तार कर लिया। जांच के दौरान पता चला कि चेरियन ने गंधर्व गोयल के साथ स्वास्थ्य के क्षेत्र में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) पर संरचित ऐप आधारित व्यवसाय शुरू किया लेकिन जब कंपनी में निवेश फला-फूला तो चेरियन ने अपनी बहन के साथ मिलकर गंधर्व गोयल को कंपनी से बाहर निकाल दिया। चेरियन ने दिल्ली के एम्स से एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी की है। वहीं चेरियन की बहन मीनाक्षी सिंह ने बी.ई. (कंप्यूटर साइंस) व आईआईएम (IIM) से एमबीए (MBA) किया है।

Insta loan services

यह भी पढ़े: दिल्ली में खत्म हुई शराब पर मिलने वाली बंपर छूट, जानें नई नीतियां

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button