देश

भारत की विकास दर का अनुमान बढ़ाकर फिच ने 6.2 फीसदी किया

पहले फिच रेटिंग्स ने भारत के विकास दर का अनुमान 5.5 फ़ीसदी रखा था, रेटिंग एजेंसी ने अपने अनुमान में 0.70 फ़ीसदी का किया इजाफा

वैश्विक रेटिंग एजेंसी फिच रेटिंग्स ने भारत की अर्थव्यवस्था के लिए दिवाली से पहले खुशखबरी सुनाई है। इस अनुमान के अनुसार, फिच रेटिंग्स ने भारत की आर्थिक वृद्धि दर का अनुमान बढ़ाकर 6.2 फ़ीसदी कर दिया है। यह अच्छी खबर है क्योंकि पहले इस दर का अनुमान 5.5 फ़ीसदी था।

 

इस अपग्रेड के पीछे की वजह यह है कि 2020 में जब अर्थव्यवस्था में गिरावट आई थी, तो भारत में श्रम बल भागीदारी दर में तेजी से सुधार हुआ। फिच रेटिंग्स के अनुसार, इससे भारत की विकास दर की बढ़त का संकेत मिलता है।

 

इसके साथ ही, फिच रेटिंग्स ने चीन, रूस, कोरिया और दक्षिण अफ्रीका के लिए विकास दर के अनुमान में कमी का संकेत दिया है। चीन के लिए विकास दर का अनुमान 4.6 फ़ीसदी, रूस के लिए 0.8 फ़ीसदी, कोरिया के लिए 2.1 फ़ीसदी और दक्षिण अफ्रीका के लिए 1.0 फ़ीसदी किया गया है।

 

फिच रेटिंग्स के अनुसार, भारत की अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर का अनुमान आने वाले वित्त वर्षों में भी स्थिर रहने का अनुमान है। 2024-25 और 2025-26 में भारत की आर्थिक वृद्धि दर की उम्मीद 6.5 फ़ीसदी है, जो कि बहुत सकारात्मक संकेत है।

 

इस समय में भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर के अनुमान में बढ़ोतरी आने के साथ-साथ, चीन, रूस, कोरिया और दक्षिण अफ्रीका के लिए कमी का संकेत भी मिलता है। यह भारत के लिए एक उज्जवल भविष्य की ओर इशारा करता है।

 

Accherishtey

Related Articles

Back to top button