देशहेल्थ

बच्चों में दिखे अगर ये लक्षण, तो हो जाए सावधान! हो सकता है Omicron

पूरे देश भर में कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रॉन के मामले दिन-प्रतिदिन बढ़ते जा रहे है. दुनिया भर में वैज्ञानिक इस वैरिएंट के बारे में जानकारी निकालने में जुटे हुए है.

पूरे देश भर में कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रॉन के मामले दिन-प्रतिदिन बढ़ते जा रहे है. दुनिया भर में वैज्ञानिक इस वैरिएंट के बारे में जानकारी निकालने में जुटे हुए है. बता दें कि दक्षिण अफ्रीका और UK में ये वैरिएंट सबसे ज्यादा बच्चों को शिकार बना रहा है. यह वैरिएंट आने वाले समय में सभी के लिए एक बड़ी चुनौती बनने वाला है.

ओमिक्रॉन वैरिएंट के लक्षण:

एक्सपर्ट्स के मुताबिक, कोरोना के पिछले जितने भी वैरिएंट्स आएं है, उनके बच्चों पर किसी भी प्रकार के लक्षण नहीं देखें गए. इस वैरिएंट की कितनी गंभीरता होगी उसके बारे में कुछ नहीं बताया जा सकता. लेकिन इस वैरिएंट के लक्षणों पर काफी सावधानी बरतनी होगी, ताकि समय पर इसका इलाज कर पाएं.

दक्षिण अफ्रीका के डॉक्टर्स के अनुसार, ओमीक्रॉन के लक्षण हर व्यक्ति में अलग-अलग भी हो सकते है. लेकिन युवाओं में थकान, बदन दर्द जैसे लक्षण हो सकते है. पहले की तरह इसमें भी लोगों को स्वाद और सुगंद का एहसास होना बंद हो जायेगा, साथ ही गले में खराश भी हो सकती है.

बच्चों में ओमिक्रॉन वैरिएंट का खतरा:

ओमीक्रॉन वैरिएंट की चपेट में अभी तक बच्चों की संख्या काफी ज्यादा है. इसमें गंभीर लक्षण भी देखें जा रहे है. डॉक्टर्स के मुताबिक, अब यह जो बच्चों आ रहे है, उनमें हलके से लेकर गंभीर लक्षण देखने को मिल रहे है, जैसे ऑक्सीजन, सपोर्टिव थेरेपी और इन्हे ज्यादा दिनों तक अस्पताल भर्ती होने की जरूरत पड़ सकती है, क्योंकि वो पहले की मुकाबले ज्यादा बीमार हो रहे हैं.

बच्चों में ओमिक्रॉन वैरिएंट के लक्षण:

अमेरिका के नेशनल हेल्थ सर्विस (NHS) के अनुसार बच्चों में ओमीक्रॉन वैरिएंट के कुछ ख़ास लक्षण देखने को मिले. जैसे तेज़ बुखार, लगातार खांसी, बदन दर्द, सिर दर्द और भूख न लगना. इस वैरिएंट में 5 साल से कम आयु के बच्चों को अस्पताल में भर्ती करने की जरुरत पड़ रही है. खबर के मुताबिक वैक्सीन न लगने से बच्चे जल्दी इसके चपेट में आ रहे है.

Tax Partner
ये भी पढ़े: दिल्ली के LNJP अस्पताल में Omicron के 3 और संदिग्ध मरीज़ भर्ती

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button