देश

Padma Bridge: बांग्लादेश का सबसे बड़ा पुल बनकर तैयार, कोलकाता से ढाका जाना हुआ और भी आसान

बांग्लादेश का सबसे बड़ा पुल पद्मा ब्रिज का निर्माण लगभग पूरा हो चूका है बता दें कि शेक हसीना इस महीने की 25 तारीख को इस पुल का उद्धघाटन करेंगी

बांग्लादेश का सबसे बड़ा पुल पद्मा ब्रिज का निर्माण लगभग पूरा हो चूका है बता दें कि शेक हसीना इस महीने की 25 तारीख को इस पुल का उद्धघाटन करेंगी। जानकारी के मुताबिक पद्मा नदी पर बने इस पुल के ऊपरी ताल को सड़क परिवहन के लिए खोला जायेगा।

इसके अलावा निचले तल पर रेलवे लाइन शुरू होने पर बांग्लादेश से कोलकाता की दुरी लगभग आधी रह जाएगी। जानकारी के मुताबिक इस पुल के निर्माण पर कुल 30,193.39 करोड़ (3.6 बिलियन डॉलर) की लागत आई है और इस सम्पूर्ण राशि का वित्त पोषण बांग्लादेश सरकार द्वारा किया गया है।

आपको बता दें कि पद्मा पुल का निर्माण चीनी कंपनी चाइना रेलवे मेजर ब्रिज इंजीनियरिंग ग्रुप कंपनी लिमिटेड (एमबीईसी) द्वारा किया गया है। अन्य परियोजनाओं में चीन की कंपनियों के शामिल होने और मदद के बावजूद शेक हसीना सरकार पूरी सतर्कता बरत रही है। इसके अलावा सुचना मंत्री डॉक्टर हसन मेहमूद ने शनिवार को भारतीय पत्रकारों से बातचीत के दौरान सुरक्षा से जुडी चिंताओं को ख़ारिज किया था।

मेहमूद ने कहाँ कि पद्मा पुल के लिए अंतरराष्ट्रीय निविदा जारी की गई थी और अंतरराष्ट्रीय निविदा में चीनी कंपनी को कुछ काम मिला…(निविदा बोली में) वे सबसे कम थे। अन्य परियोजनाओं में भी ऐसा हुआ है इसी तरह से चीनी कंपनियां भारत में भी प्रोजेक्ट तैयार कर रही है।

जानकारी के अनुसार शेक हसीना ने 4 जुलाई 2001 को मुंशीगंज जिले के मावा में पद्मा पुल का शिलान्यास किया था। इस पुल के शुरू होने के साथ बांग्लादेश का वह सपना साकार जायेगा जो दो दशक पहले देखा था। बता दें यह पुल 6.15 किलोमीटर लंम्बा है इसके ऊपर चार लाइन की सड़क है और निचे रेलवे लाइन है।

रेलवे अधिकारीयों के अनुसार पद्मा नदी पर यह पुल 2024 तक चालू होने की उम्मीद की जा रही है बता दें कि मैत्री एक्सप्रेस ट्रैन का ढाका से कोलकाता के लिए यात्रा का समय 2 तिहाई कम हो जायेगा अभी मैत्री एक्सप्रेस 400 किलोमीटर का सफर तय करते हुए कोलकाता से नादिया, गेंदे होते हुए ढाका छावनी स्टेशन पहुंचती है।

अधिकारीयों के मुताबिक निर्माण पूरा होने के बाद इस मार्ग की दुरी करीब 251 किलोमीटर होगी जिसे तय करने में मैत्री एक्सप्रेस को साढ़े तीन घंटे से ज्यादा नहीं लगेंगे।

Hair Crown

ये भी पढ़े: Govt Scheme: मोदी सरकार फ्री में बाँट रही है सिलाई मशीन, जल्द करे अप्लाई

Jagjeet Singh

जगजीत सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे हैं। इन्होंने टेक्निकल, विश्व और एजुकेशन से सम्बंधित लेखो को अपने लेखन में प्रकाशित किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button