देश

मकान में आग लगने से दम्पति सहित बेटे की दर्दनाक मौत, घर में मिले शव

आशंका जताई जा रही है कि दंपती अपना कमरा गर्म रखने के लिए हीटर या फिर अन्य संसाधन का इस्तेमाल करते हों और फिर उससे आग लगी हो और वे उस...

गुजरात के अहदाबाद में एक घर में भयानक आग लग गई। आग में जिंदा जलने की वजह से एक दंपती और उनके आठ वर्ष के बेटे की बेहद दर्दनाक मौत हो गई। संभागीय अग्निशमन अधिकारी ओम जड़ेजा ने इस मामले में बताया कि आग लगने के समय दंपती और बेटा मकान की पहली मंजिल पर स्थित शयन कक्ष में सो रहे थे। आग लगने का कारण अभी पता नहीं चल पाया है। फोरेंसिक टीम इस मामले की जांच में जुटी है।

आहत्मत्या की आशंका से नहीं हो सकता इनकार

इस मामले में आगे अग्निशमन विभाग के अधिकारी के ये कहना है कि मामले में आहत्मत्या की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता। यह भी आशंका जताई जा रही है कि दंपती अपना कमरा गर्म रखने के लिए हीटर या फिर अन्य संसाधन का इस्तेमाल करते हों और फिर उससे आग लगी हो और वे उस आग में घिर गए हों। अधिकारी ने कहा कि जानकारी मिलते ही अग्नि शमन दल घटनास्थल पर मौके पर पहुंचा तो वहां कुछ लोग मदद की गुहार लगा रहे थे।

रूम के दरवाजे के पास पड़े मिले मृतकों के शव

जड़ेजा ने यह भी बताया कि जब बचाव दल ने मकान के अंदर प्रवेश किया तो उन्हें डुप्लेक्स की पहली मंजिल पर बेडरूम के दरवाजे के पास तीन लोगों के शव पड़े मिले। पीड़ितों की मौत संभवत: सभी की मौत धुएं की वजह से दम घुटने से हुई। जड़ेजा ने आगे यह कहा कि मृतकों के शरीर के कुछ हिस्से जले हुए पाए गए हैं। मृतकों की पहचान 40 वर्ष के जयेश वाघेला, 35 वर्ष की उनकी पत्नी हंसाबेन और साथ ही बेटे रोहन के रूप में हुई है। सभी शवों को पोस्टमार्टम के लिए सरकारी हॉस्पिटल भेजा गया है। जड़ेजा का कहना है कि आग मकान के अन्य हिस्सों में फैल पाती इससे पहले ही अग्निशमन दल ने उस पर पूरी तरह से काबू पा लिया। मामले की जांच की जा रही है।

Accherishtey

ये भी पढ़े: शर्मसार कर देने वाली घटना, मां ने तीन महीने की बच्ची को फेंका तीसरी मंजिल से

Gagandeep Singh

गगनदीप सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। जहां ये दिल्ली से जुड़ी सारी क्राइम की खबरें निडर होकर अपने लेख से लोगों तक पहुंचाते है

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button