देश

पहले भारतीय कला,वास्तुकला कार्यक्रम का उद्घाटन कल करेंगे पीएम

इसी दौरान पीएम मोदी आत्मनिर्भर भारत सेंटर फॉर डिजाइन और छात्र द्विवार्षिक- समुन्नति का भी करेंगे उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल शुक्रवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के लाल किले में आयोजित होने वाले पहले भारतीय कला, वास्तुकला और डिजाइन द्विवार्षिक कार्यक्रम (आईएडीबी) 2023 का उद्घाटन करेंगे। इस दौरान पीएम मोदी आत्मनिर्भर भारत सेंटर फॉर डिजाइन और छात्र द्विवार्षिक- समुन्नति का भी उद्घाटन करेंगे।

 

विश्वस्तरीय कार्यक्रमों की भांति, जैसे कि वेनिस, साओ पाउलो, सिंगापुर, सिडनी और शारजाह में आयोजित होते हैं, उसी तरह भारत में भी एक वैश्विक स्तर पर सांस्कृतिक पहल को बढ़ावा दिया जा रहा है। इस दिशा में प्रधानमंत्री ने एक राष्ट्रव्यापी अभियान शुरू किया था, जिसमें संग्रहालयों को पुन: आविष्कार, पुनर्निर्मित और पुन: स्थापित करने का प्रयास किया गया था।

 

सांस्कृतिक स्थलों का विकास देश के पांच शहरों में कोलकाता, दिल्ली, मुंबई, अहमदाबाद और वाराणसी में किया जा रहा है। आईएडीबी दिल्ली में भारतीय संस्कृति के परिचय के रूप में काम करेगा।

 

इस कार्यक्रम के दौरान कलाकारों, वास्तुकारों, डिजाइनरों, फोटोग्राफरों, संग्राहकों, कला पेशेवरों और जनता के बीच समग्र बातचीत शुरू की जा रही है। इससे नए रास्ते और अवसर प्रकट होकर कारीगरों के रोजगार में मदद मिलेगी।

 

IIADB सप्ताह के प्रत्येक दिन अलग-अलग थीम पर आधारित प्रदर्शनियां प्रस्तुत करेगा। प्रवेश-अनुष्ठान, बाग ए बहार, सम्प्रवह समुदायों का संगम, स्थापत्य एंटी फ्रैजाइल एल्गोरिथम, विस्मया क्रिएटिव क्रॉसओवर, देशज भारत डिजाइन और समत्व जैसे विभिन्न थीम्स पर आधारित प्रदर्शनियां होंगी।

 

‘आत्मनिर्भर भारत सेंटर फॉर डिज़ाइन’ पर भारतीय शिल्प का प्रदर्शन होगा और कारीगरों और डिजाइनरों के लिए एक सहायक मंच प्रदान किया जाएगा। यह सांस्कृतिक अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देकर कारीगर समुदायों को नए डिजाइन और नवाचारों को सशक्त बनाएगा।

Accherishtey

Related Articles

Back to top button