लाइफस्टाइल

जानिए आखिर क्यों मनाई जाती है दिवाली? इन पौराणिक कथाओं में छिपा है रहस्य

दीपावली, जिसे हम दिवाली के रूप में भी जानते हैं, भारत में एक महत्वपूर्ण त्योहार है जो हिन्दू समुदाय के द्वारा मनाया जाता है। यह त्योहार

दीपावली, जिसे हम दिवाली के रूप में भी जानते हैं, भारत में एक महत्वपूर्ण त्योहार है जो हिन्दू समुदाय के द्वारा मनाया जाता है। यह त्योहार अक्टूबर और नवम्बर में मनाया जाता है और इसका मतलब “दीपों की पंक्ति” होता है। दीपावली के मनाने के पीछे कई कारण होते हैं:

भगवान श्रीराम की वापसी: दीपावली का मुख्य कारण है भगवान श्रीराम की अयोध्या वापसी का स्वागत करना। इस पर्व के अवसर पर, भगवान श्रीराम, सीता माता, और लक्ष्मण अपने 14 साल के वनवास से अयोध्या वापस आए थे।

भगवान गणेश की पूजा: दीपावली के पहले दिन, लोग भगवान गणेश की पूजा करते हैं, जिन्हें विजयलक्ष्मी और समृद्धि की प्राप्ति के देवता माना जाता है।

भगवान लक्ष्मी की पूजा: दीपावली के तीन से पाँच दिन तक, भगवान लक्ष्मी की पूजा की जाती है, जिन्हें धन और संपत्ति की देवी माना जाता है।

पुष्पगंधा: दीपावली के दिन, लोग अपने घरों को सजाने के लिए ख़ुशबूदार पुष्पगंधा और धूप का उपयोग करते हैं। यह अच्छे संवाद को प्राप्त करने और बुराई को दूर भगाने के लिए किया जाता है।

विश्वास: दीपावली के इस त्योहार में लोग भगवान के प्रति अपना विश्वास और प्रेम दिखाते हैं और सजग रहने का संकेत देते हैं।

इस प्रकार, दीपावली भारतीय सांस्कृतिक और आध्यात्मिक महत्व के साथ हिन्दू समुदाय में मनाया जाता है, जिसमें देवी-देवताओं की पूजा, परिवार के साथ वक्त बिताने का और दान करने का महत्वपूर्ण स्थान है।

Accherishteyये भी पढ़े: Goa tourist places: गोवा ट्रिप को यादगार बनाने के लिए इन जगहों पर जरुर जाएं

Related Articles

Back to top button