राजनीति

New Delhi: दिल्ली में तीन नए कोर्ट का शिलान्यास हुआ

आतिशी ने यह भी बताया कि सरकार शिक्षा, स्वास्थ्य और सार्वजनिक सेवाओं के क्षेत्र में भी महत्वपूर्ण कार्य कर रही है।

दिल्ली में तीन नए कोर्ट का शिलान्यास हुआ है, जिसे दिल्ली के उपराज्यपाल (LG) ने आवश्यक और समयानुकूल कदम बताया। उन्होंने कहा कि न्यायिक प्रणाली को मजबूत करना समाज के विकास के लिए अत्यंत आवश्यक है। नए कोर्ट के निर्माण से न केवल लंबित मामलों की संख्या में कमी आएगी, बल्कि न्याय की गति भी बढ़ेगी।

उपराज्यपाल ने अपने भाषण में कहा कि दिल्ली में बढ़ती जनसंख्या और कानूनी मामलों की बढ़ती संख्या को देखते हुए, अदालतों की संख्या बढ़ाना आवश्यक है। यह कदम न्याय पाने के लिए लोगों की सुविधा में सुधार करेगा और अदालतों पर पड़ने वाले भार को कम करेगा। उन्होंने यह भी उल्लेख किया कि न्यायिक प्रणाली को सुदृढ़ करना सरकार की प्राथमिकताओं में से एक है।

इस अवसर पर दिल्ली की शिक्षा मंत्री आतिशी ने भी उपस्थित रहकर इस पहल की सराहना की और दिल्ली सरकार की विभिन्न उपलब्धियों का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार न्यायपालिका के बुनियादी ढांचे को सुधारने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है। उन्होंने न्यायिक प्रणाली के विकास और सुधार के लिए सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की भी चर्चा की।

आतिशी ने यह भी बताया कि सरकार शिक्षा, स्वास्थ्य और सार्वजनिक सेवाओं के क्षेत्र में भी महत्वपूर्ण कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि न्यायिक प्रणाली को मजबूत करना केवल कानूनी मामलों के निपटारे के लिए ही नहीं, बल्कि समाज के हर वर्ग को न्याय दिलाने के लिए आवश्यक है।

इस प्रकार, तीन नए कोर्ट का शिलान्यास दिल्ली में न्यायिक प्रणाली के सुदृढ़ीकरण की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है, जो न्याय की प्रक्रिया को अधिक प्रभावी और शीघ्र बनाएगा।

Related Articles

Back to top button