राजनीति

चुनाव आयोग ने राहुल गांधी को भेजा नोटिस, पीएम मोदी पर अपमानजनक टिप्पणी करने का मामला

भारतीय जनता पार्टी की शिकायत पर सुनवाई करते हुए चुनाव आयोग ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को अपमानजनक टिप्‍पणी करने के मामले में नोटिस भेज दिया है.

भारतीय जनता पार्टी की शिकायत पर सुनवाई करते हुए चुनाव आयोग ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को अपमानजनक टिप्‍पणी करने के मामले में नोटिस भेज दिया है. राहुल गांधी ने चुनावी रैलियों में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए अपमानजनक शब्‍दों का इस्‍तेमाल किया; ऐसे आरोपों के साथ भाजपा ने चुनाव आयोग से शिकायत की थी.

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर चुनावी रैली में अपमानजनक टिप्पणी करने पर चुनाव आयोग ने राहुल गांधी को नोटिस भेजा है. चुनाव आयोग ने कांग्रेस नेता से 25 नवंबर तक शाम छह बजे तक जवाब मांगा है. बता दें कि पीएम मोदी पर अपमानजनक टिप्पणी करने पर बीजेपी ने चुनाव आयोग से शिकायत कर एक्शन की मांग की थी.

चुनाव आयोग को अपनी शिकायत में भाजपा ने कहा था कि हम निर्वाचन आयोग से अनुरोध करते हैं कि वे मल्लिकार्जुन खड़गे और राहुल गांधी पर उनके लगातार धोखाधड़ी, आधारहीन और अपमानजनक आचरण के लिए उचित कानूनी कार्रवाई करते हुए तत्‍काल हस्‍तक्षेप करे और इन दोनों के खिलाफ निषेधात्‍मक आदेश पारित किया जाए. अन्‍यथा, यह चुनावी माहौल को खराब कर देगा और इससे सम्‍मानित व्‍यक्तियों को बदनाम करने के लिए अपशब्‍दों, आपत्तिजनक भाषा का उपयोग और झूठी खबरों को रोकना मुश्किल हो जाएगा.

भाजपा नेताओं ने की आलोचना, कहा- राहुल गांधी तुरंत माफी मांगेंभाजपा नेताओं ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी का अपमानजनक शब्‍दों वाला बयान घोर निंदनीय है और इसके लिए उन्हें माफी मांगनी ही होगी. चुनाव आयोग पहुंचे प्रतिनिधिमंडल में बीजेपी महासचिव राधा मोहन दास अग्रवाल, ओम पाठक सहित अन्‍य नेता शा‍मिल थे. बीजेपी नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ शर्मनाक टिप्पणी कर राहुल गांधी ने अपना असली रूप दिखा दिया है. मध्‍यप्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी राहुल गांधी के बयान की आलोचना की है. उन्‍होंने कहा कि देश की जनता राहुल गांधी को कभी माफ नहीं करेगी, यह बयान देशद्रोह की सीमा में आता है. बुद्धिहीनता का इससे बड़ा कोई उदाहरण नहीं हो सकता.
Accherishteyयह भी पढ़ें:

 

 

Related Articles

Back to top button