राजनीति

इंदिरा गांधी के सुरक्षा प्रमुख रहे लालदुहोमा अब बनेंगे मिजोरम सीएम

मिजोरम पीपुल्स मूवमेंट के नेता लालदुहोमा ने आज 10:30 बजे राज्यपाल हरि बाबाउ कंभमपति से पेश किया सरकार बनाने का दावा

मिजोरम में हुए विधानसभा चुनाव में मिजोरम पीपुल्स मूवमेंट पार्टी ने बड़ी जीत हासिल की है। इस जीत से उन्होंने पूर्ण बहुमत प्राप्त किया है। लालदुहोमा, इस पार्टी के नेता, ने राज्यपाल से मुलाकात करते हुए सरकार बनाने का दावा रखा है। नए मुख्यमंत्री और मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण 8 दिसंबर को होगा।

 

मिजोरम में 40 विधानसभा सीटों पर हुए चुनाव में मिजोरम पीपुल्स मूवमेंट सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। इस पार्टी ने 27 सीटें जीतकर बहुमत हासिल की, जबकि सत्ताधारी मिजो नेशनल फ्रंट ने 10 सीटें जीतीं।

 

मिजोरम के पिछले मुख्यमंत्री जोरमथंगा आइजोल-ईस्ट ने अपनी सीट हारी है। इसके अलावा, बीजेपी ने दो सीटों पर जीत हासिल की है जबकि कांग्रेस को एक सीट मिली है।

 

चुनावी हार के बाद, पूर्व मुख्यमंत्री जोरमथांगा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। वह पहले से राज्य के मुख्यमंत्री थे, और 1990 से सेवा कर रहे थे।

 

मिजोरम पीपुल्स मूवमेंट पार्टी दूसरी बार विधानसभा चुनाव लड़ रही है। 2018 में इस पार्टी को सिर्फ 8 सीटें मिली थीं। इसे छह दलों के गठबंधन से बनी थी, जिसमें मिजोरम पीपुल्स कॉन्फ्रेंस, जोरम नेशनलिस्ट पार्टी, जोरम एक्सोडस मूवमेंट, जोरम डिसेंट्रलाइजेशन फ्रंट, जोरम रिफॉर्मेशन फ्रंट, और मिजोरम पीपुल्स पार्टी शामिल थीं।

 

लालदुहोमा, इस पार्टी के मुखिया, एक पूर्व आईपीएस अधिकारी हैं जो पहले प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की सुरक्षा की कमान संभाल चुके हैं। उनका राजनीतिक सफर रोचक है, उन्होंने 1984 में मिजोरम से कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा सीट पर जीत हासिल की थी।

 

लालदुहोमा ने अपनी सरकार की प्राथमिकताएं बताई हैं, जिसमें किसानों का कल्याण, वित्तीय सुधार, और भ्रष्टाचार को रोकने के लिए कठोर कदम शामिल हैं। उन्होंने कहा है कि राज्य के किसानों का समर्थन करने के लिए सरकार न्यूनतम मूल्य पर अदरक, हल्दी, मिर्च और झाड़ू खरीदेगी और एक विशेषज्ञ समिति का गठन कर राजकोषीय सुधार करेगी। उन्होंने भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाने की भी बात की है।

Accherishtey

Related Articles

Back to top button