राजनीति

New Delhi: केजरीवाल की जमानत को लेकर 150 वकीलों ने चिट्ठी लिखी

इस मामले का संज्ञान लें और केजरीवाल को उचित न्याय प्रदान करने के लिए कदम उठाएं।

अरविंद केजरीवाल की जमानत को लेकर 150 वकीलों ने भारत के मुख्य न्यायाधीश (CJI) को एक चिट्ठी लिखी है। यह मामला केजरीवाल की राजनीतिक गतिविधियों और कानूनी मामलों से जुड़ा हुआ है, जिसमें उनका राजनीतिक प्रतिशोध और न्यायिक प्रक्रियाओं पर असर पड़ने की संभावना जताई गई है।

वकीलों ने इस चिट्ठी में कहा है कि केजरीवाल को निशाना बनाया जा रहा है और यह उनके राजनीतिक विरोधियों द्वारा एक रणनीति है। उनका दावा है कि यह कार्रवाई राजनीतिक द्वेष और दुर्भावना से प्रेरित है, जो भारतीय न्यायपालिका की स्वतंत्रता और निष्पक्षता पर सवाल खड़े करती है।

चिट्ठी में वकीलों ने यह भी बताया कि केजरीवाल के खिलाफ लगाए गए आरोपों का कोई ठोस आधार नहीं है और उन्हें राजनीतिक लाभ के लिए फंसाया जा रहा है। वकीलों का मानना है कि ऐसे मामलों में न्यायपालिका की भूमिका महत्वपूर्ण है और उसे निष्पक्ष रूप से कार्रवाई करनी चाहिए।

वकीलों ने CJI से आग्रह किया है कि वे इस मामले का संज्ञान लें और केजरीवाल को उचित न्याय प्रदान करने के लिए कदम उठाएं। उनका कहना है कि यह मामला केवल एक व्यक्ति का नहीं है, बल्कि भारतीय लोकतंत्र और न्यायपालिका की स्वतंत्रता की रक्षा का मुद्दा है।

इस प्रकार, 150 वकीलों की यह चिट्ठी एक महत्वपूर्ण कानूनी और राजनीतिक मुद्दे की ओर ध्यान आकर्षित करने का प्रयास है, जिसमें वे न्यायपालिका से निष्पक्ष और स्वतंत्र जांच की मांग कर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button