राजनीति

New Delhi: अवैध तरीके से पेड़ काटने के मामलों पर सख्ती दिखाई

सरकार ने डीडीए (दिल्ली विकास प्राधिकरण), वन विभाग और दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है।

दिल्ली सरकार ने अवैध तरीके से पेड़ काटने के मामलों पर सख्ती दिखाई है। हाल ही में, सरकार ने डीडीए (दिल्ली विकास प्राधिकरण), वन विभाग और दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है। इस कदम का मुख्य उद्देश्य शहर में हरित आवरण को बनाए रखना और पर्यावरण को होने वाले नुकसान को रोकना है।

दिल्ली में पेड़ काटने की घटनाओं में वृद्धि देखी गई है, जो न केवल पर्यावरण के लिए हानिकारक है, बल्कि शहर की जलवायु और हवा की गुणवत्ता को भी प्रभावित करती है। सरकार ने इन घटनाओं पर गंभीरता से ध्यान दिया है और सुनिश्चित किया है कि अवैध गतिविधियों में शामिल लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

नोटिस में कहा गया है कि डीडीए, वन विभाग और पुलिस को संयुक्त रूप से इस मुद्दे को देखना चाहिए और अवैध पेड़ काटने की घटनाओं की तुरंत जांच करनी चाहिए। इसके अलावा, संबंधित विभागों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है कि पेड़ों की कटाई के लिए आवश्यक अनुमति और प्रक्रिया का पालन किया जाए। जो लोग नियमों का उल्लंघन करते पाए जाएंगे, उनके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

सरकार ने यह भी स्पष्ट किया है कि शहर में हरित आवरण को बढ़ाने के लिए विशेष अभियान चलाए जाएंगे। इनमें पौधारोपण, पेड़ों की देखभाल और पर्यावरण संरक्षण से संबंधित जागरूकता कार्यक्रम शामिल होंगे। सरकार का मानना है कि हरित आवरण को बढ़ाकर न केवल पर्यावरण को संरक्षित किया जा सकता है, बल्कि शहरवासियों के जीवन की गुणवत्ता में भी सुधार किया जा सकता है।

यह कदम दिल्ली सरकार की पर्यावरण संरक्षण के प्रति प्रतिबद्धता को दर्शाता है और उम्मीद है कि इससे अवैध पेड़ काटने की घटनाओं में कमी आएगी और शहर का पर्यावरण बेहतर होगा।

Related Articles

Back to top button