धर्म

पहाड़ो के बीच बसा 123 साल पुराना मंदिर; जहा होती है हर मुराद पूरी

हमारे भारत देश में बहुत सारी मंदिर है. एक से बढ़ कर एक मंदिर हर शहर में है. बहुत सारे मंदिरों में से एक ऐसा मंदिर है जो 123 साल पुराना है इस मंदिर में हर मुराद हो जाती है पूरी.

हमारे भारत देश में बहुत सारी मंदिर है. एक से बढ़ कर एक मंदिर हर शहर में है. बहुत सारे मंदिरों में से एक ऐसा मंदिर है जो 123 साल पुराना है इस मंदिर में हर मुराद हो जाती है पूरी. ये मंदिर झारखंड के जमशेदपुर में है जहां मां दुर्गा की पूजा होती है. इस मंदिर का नाम है गोल पहाड़ी मंदिर. यहां दूर-दूर से लोग आते हैं माता के दर्शन करने. ये मंदिर 1900 में स्थापित की गई थी और आज भी ये मंदिर उतनी ही खूबसूरत है.

जमशेदपुर के अलावा आसपास के लोगों की भी हर दिन इस मंदिर में भीड़ रहती है.यह मंदिर पहाड़ों से कट कर बनी है ये मंदिर लगभग 600 फीट ऊंची होने के कारण बहुत ऊपर है. इस मंदिर के दर्शन करने के लिए 200 सीढ़ियां चढ़ने पड़ते है. दर्शन करने के लिए जाते हैं यहां माता के अलावा और भी देवी-देवताओं की प्रतिमा है यहां पर चिट्ठी लिखने और चुंदरी बांधने की मान्यता है. भक्त जो यहाँ आते है चिट्ठी लिखकर वहा मौजूद पेड़ है उसमें बांधते हैं. तो हमारी मुरादे पूरी हो जाती है और फिर हम अपनी मुरादे पूरी करके जब आते हैं तो उसे खोलना पड़ता है.

गोल पहाड़ी मंदिर में माता के अलावा भगवान शिव जी भगवान विष्णु जी काली माता भगवान पंचमुखी हनुमान जी सहित अन्य देवी देवताएं विराजमान है. वह मौजद सारे भगवन की बहुत सारे रहस्यमय कहानी है.इस मंदिर में जो भी आते है खाली हाथ नहीँ जाते है ये जमशेदपुर का काफी प्रशिद्ध मन्दिर है. इस मंदिर के आस पास का वातावरण बहुत ही अच्चा है यहाँ दर्शन के साथ साथ लोग यात्रा भी करने आते है. आपको बता दे ये पहाड़ो के बिच में है जिस कारण इसका लोकेशन और भी प्यारा नज़र आता है .

Accherishtey

यह भी पढ़े : तिलक लगाने से होंगे तनाव से दूर; एकाग्र होता है मन\

Related Articles

Back to top button