धर्मविश्व

सऊदी अरब में मिला 8000 साल पुराना मंदिर, हिन्दू सभ्यता पर लगी मुहर

सऊदी अरब की राजधानी रियाद में कुछ समय पहले हुई खुदाई में बेहद चौंकाने वाली चीजें सामने आई हैं. पुरातत्व विभाग को दक्षिण-पश्चिम इलाके

सऊदी अरब की राजधानी रियाद में कुछ समय पहले हुई खुदाई में बेहद चौंकाने वाली चीजें सामने आई हैं. पुरातत्व विभाग को दक्षिण-पश्चिम इलाके के अल-फॉ की साइट पर खुदाई में 8 हजार साल पुराना मंदिर देखा गया है.

आपको बता दें, यहां इतनी ही पुरानी यज्ञ वेदी मिली है. लोगों ने बताया हैं कि सऊदी अरब में एक ऐसा समय था, जब यहां हिन्दू सभ्यता का अस्तित्व रहा है. चौंकाने वाली बात तो ये है कि यज्ञ वेदी उसी दिशा में है जिस तरफ ज्यादातर भारतीय मंदिरों में होती है. अनेक ऐसे अवशेष मिले हैं जिन पर देवी-देवताओं के चित्र उकेरे गए हैं.

इसी के साथ यह खुदाई सऊदी अरब और फ्रांस के पुरातत्व कहा गया कि यहां मानव बस्ती के अवशेष तथा 1,807 कब्र मिली हैं. ये अवशेष बताते हैं कि यहां एक समय इंसान रहते थे. मंदिर और यज्ञ वेदी हिन्दू सभ्यता की पुष्टि करते हैं.

हिन्दू सभ्यता की पुष्टि कैसे हुई

सऊदी अरब हेरिटेज कमीशन ने एक मल्टी नेशनल टीम से सर्वे कराया. सर्वे के लिए एरियल इंवेस्टिगेशन से लेकर जमीन में काफी गहराई तक खुदाई की गयी. कहा जा रहा है कि अल-फॉ में रहने वाले लोग यहां पर रोज पूजा किया करते हैं और यज्ञ अनुष्ठान उनके जीवन का हिस्सा हुआ करता था.

यहां पर मानव बस्ती के अवशेष और 1,807 कब्र मिली हैं. ये अवशेष बताते हैं कि यहां एक वक्त इंसान रहा करते थे. मंदिर तथा यज्ञ वेदी हिन्दू संस्कृति की पुष्टि करते हैं.

रहन-सहन ही नहीं, जंग भी होती थी

रिपोर्ट के मुताबिक, उस दौर के इंसान रेगिस्तान में भी पानी को बचाने के लिए कठिन मेहनत किया करते थे. काफी जद्दोजहद के बाद इस जल को खेतों तक पहुंचाया जाता था. पत्थरों पर शिलालेख में माधेकर बिन मुनैम नाम के शख्स उसका जिक्र किया गया है.
Insta loan services

यह भी पढ़े: दिल्ली में खत्म हुई शराब पर मिलने वाली बंपर छूट, जानें नई नीतियां

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button