धर्म

Aaj Ka Panchang 20 April: जानें आज का शुभ मुहूर्त, राहु काल और ग्रह-नक्षत्र की चाल

Aaj Ka Panchang 20 April: राहुकाल और शुभमुहूर्त के साथ जानें कैसे लगेगा कार्यस्थल पर मन और उन्नतिकारक कुंजियाँ

दिनांक 20 अप्रैल 2022

दिन – बुधवार

विक्रम संवत – 2079

शक संवत – 1944

अयन – उत्तरायण

ऋतु – ग्रीष्म

मास – वैशाख

पक्ष – कृष्ण

तिथि – चतुर्थी दोपहर 01:52 तक तत्पश्चात पंचमी

नक्षत्र – ज्येष्ठा रात्रि 11:42 तक तत्पश्चात मूल

योग – वरियान दोपहर 01:40 तक तत्पश्चात परिघ

राहुकाल – दोपहर 12:39 से 02:15 तक

सूर्योदय – 06:15

सूर्यास्त – 07:02

दिशाशूल – उत्तर दिशा में

ब्रह्म मुहूर्त– प्रातः 04:45 से 05:30 तकनिशिता मुहूर्त – रात्रि 12.16 से 01:01 तक

व्रत पर्व विवरण – सती अनसूया जयन्ती

विशेष – चतुर्थी को मूली खाने से धन का नाश होता है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

सुख-समृद्धि की सदैव वृद्धि हेतु

घर के मध्य में तुलसी का पौधा होने से घर में प्रेम के साथ-साथ सुख-समृद्धि की भी सदैव वृद्धि होती रहती है |
– ऋषि प्रसाद July 2012

देशी गाय व भैंस के दूध में अंतर

देशी गाय का दूध

१] सुपाच्य होता है |
२] इसमें स्वर्ण-क्षार होते हैं |
३] बुद्धि को कुशाग्र बनाता है |
४] स्मरणशक्ति बढाता है एवं स्फूर्ति प्रदान करता है |
५] यह सत्त्वगुण बढ़ाता है |
६] गाय अपना बछड़ा देखकर स्नेह व वात्सल्य से भर के दूध देती है ।

 भैंस का दूध 

१] पचने में भारी होता है |
२] इसमें स्वर्ण-क्षार नहीं होते हैं।
३] बुद्धि को मंद करता है |
४] यह आलस्य व अत्यधिक नींद लाता है |
५] यह तमोगुण बढ़ाता है |
६] भैंस स्वाद व खुराक देखकर दूध देती है | भैंस का दूध पीके बड़े होनेवाले भाई सम्पदा के लिए लड़ते-मरते हैं |

देशी गाय के दूध में सम्पूर्ण प्रोटीन्स रहने के कारण यह मनुष्यों के लिए अनिवार्य है | भैंस के दूध की अपेक्षा गाय के दूध में रहनेवाले प्रोटीन्स सुगमता से पचते हैं | गाय के दूध में ऑक्सिडेज तथा रिडक्टेज एंजाइम की प्रचुरता रहती है, जो पाचन में सहायता देने के अतिरिक्त दूध पीनेवालों के शरीर में पाये जानेवाले टोक्सिंस (विषैले पदार्थ) को दूर करते हैं |
देशी गाय के दूध की और भी अनेक विशेषताएँ हैं | ऊपर दिये गये बिन्दुओं से देशी गाय के दूध की श्रेष्ठता स्पष्ट हो जाती है | देशी गाय का दूध पीकर हम आयु, बुद्धिमत्ता, सात्त्विकता, निरोगता आदि बढायें या भैंस का दूध पी के इन्हें घटायें – यह हमारे हाथ की बात है |

भैंस के दूध से भी अधिक हानिकारक है जर्सी आदि विदेशी संकरित गायों का दूध |

Hair Crown

 

 

यह भी पढ़े: Ram Navami 2022: रामनवमी को 10 साल बाद आया ऐसा दिन, जानें क्या हैं खासियत

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button