धर्म

Aaj Ka Panchang 22 June: नवमी तिथि, जानें आज के नक्षत्र मुहूर्त और शुभ योग

Aaj Ka Panchang 22 June: राहुकाल और शुभमुहूर्त के साथ जानें कैसे लगेगा कार्यस्थल पर मन और उन्नतिकारक कुंजियाँ

दिनांक 22 जून 2022

दिन – बुधवार

विक्रम संवत – 2079

शक संवत – 1944

अयन – उत्तरायण

ऋतु – वर्षा

मास – आषाढ़

पक्ष – कृष्ण

तिथि – नवमी रात्रि 08:45 तक तत्पश्चात दशमी

नक्षत्र – रेवती पूर्ण रात्रि तक

योग – शोभन 23 जून प्रातः 04:57 तक तत्पश्चात अतिगण्ड

राहु काल – दोपहर 12:42 से 02:23

सूर्योदय – 05:55

सूर्यास्त – 07:28

दिशा शूल – उत्तर दिशा में

ब्रह्म मुहूर्त – प्रातः 04:32 से 05:13 तक

निशिता मुहूर्त – रात्रि 12:21 से 01:03 तक

व्रत पर्व विवरण

विशेष – नवमी को लौकी खाना गोमांस के समान त्याज्य है ।

(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

वर्षा ऋतु में क्या करें ?, क्या न करें ?

वर्षा ऋतु – 21 जून से 22 अगस्त

क्या करें ? 

१] भोजन में मधुर, खट्टे व लवण रसवाले, चिकनाईयुक्त, वातशामक, जठराग्निरक्षक द्रव्यों की प्रधानता हो । ( चरकसंहिता, भावप्रकाश)

२] पुराने जौ, गेहूँ, चावल, काला नमक युक्त मूँग का सूप, शहद व अन्य सुपाच्य पदार्थों का सेवन करें । ( चरक संहिता, अष्टांगह्रदय )

३] सोंठ, काली मिर्च, तेजपत्ता, दालचीनी, जीरा, धनिया, अजवायन, राई, हींग, पपीता, नाशपाती, सूरन, परवल, तोरई, बैंगन, सहजन, मूँग दाल, कुलथी, नींबू, करेला, पुनर्नवा, पुदीना, आँवला व तुलसी का सेवन लाभदायी है ।

४] पहले का खाया हुआ पच जाने पर जब खुलकर भूख लगे व शरीर में हलकापन लगे तभी दूसरा भोजन करें । (अष्टांगह्रदय आदि )

५] गर्म करके ठंडा या गुनगुना किया हुआ पानी पीना चाहिए । (अष्टांगह्रदय, चरक संहिता )

६] सूखे स्थान पर रहें । घर में नमी न रहे इसका ध्यान रखें ।

७] हलके, सूती कपड़े पहने । सफेद वस्त्र विशेष लाभदायी है ।

क्या न करें ?

१] हरी पत्तेदार सब्जियों जैसे पालक, पत्तागोभी, मेथी आदि तथा पचने में भारी, वातवर्धक एवं बासी पदार्थ का सेवन न करें ।

२] उड़द, चना, अरहर, चौलाई, आलू, केला, आम, अंकुरित अनाज, मैदा, मिठाई, शीतल पेय, आइसक्रीम, दही व सत्तू का सेवन न करें ।

३] दिन में सोना, ओस गिरते समय उसमें बैठना या घूमना, बारिश में भीगना, अधिक व्यायाम एवं मैथुन छोड़ देना चाहिए । ( चरक संहिता आदि )

४] रात्रि में खुले आकाश के नीचे न सोयें ।

५] स्नान के बाद या बारिश में भीगने के बाद गीले शरीर कपड़े न पहनें । शरीर को अच्छे से पोछकर ही कपड़े पहने ।

६] खुले बदन न घूमें ।

७] देर रात को भोजन न करें ।

८] रात्रि जागरण न करें ।

Insta loan services

यह भी पढ़े: दिल्‍ली के इन इलाकों में हो सकती है पानी की समस्या, पहले से कर लें तैयारी

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button