धर्म

Aaj Ka Panchang 26 August: अमावस्या तिथि, जानें मुहूर्त और शुभ योग का समय

Aaj Ka Panchang 26 August: राहुकाल और शुभमुहूर्त के साथ जानें कैसे लगेगा कार्यस्थल पर मन और उन्नतिकारक कुंजियाँ

दिनांक – 26 अगस्त 2022

दिन – शुक्रवार

विक्रम संवत् – 2079

शक संवत् – 1944

अयन – दक्षिणायन

ऋतु – शरद

मास – भाद्रपद (गुजरात एवं महाराष्ट्र के अनुसार श्रावण)

पक्ष – कृष्ण

तिथि – चतुर्दशी दोपहर 12:23 तक तत्पश्चात अमावस्या

नक्षत्र – अश्लेषा शाम 06:33 तक तत्पश्चात मघा

योग – परिघ रात्रि 02:12 तक तत्पश्चात शिव

राहु काल – सुबह 11:06 से 12:41 तक

सूर्योदय – 06:20

सूर्यास्त – 07:03

दिशा शूल – पश्चिम दिशा में

ब्राह्ममुहूर्त – प्रातः 04:50 से 05:35 तक

निशिता मुहूर्त – रात्रि 12:19 से 01:04 तक

व्रत पर्व विवरण – दर्श अमावस्या

विशेष – चतुर्दशी, अमावस्या के दिन स्त्री-सहवास तथा तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है । (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)

नकारात्मक ऊर्जा मिटाने के लिए

26 अगस्त 2022 दोपहर 12:24 से 27 अगस्त दोपहर 01:46 तक अमावस्या है ।
घर में हर अमावस्या अथवा हर १५ दिन में पानी में खड़ा नमक (१ लीटर पानी में ५० ग्राम खड़ा नमक) डालकर पोछा लगायें । इससे नेगेटिव एनर्जी चली जाएगी । अथवा खड़ा नमक के स्थान पर गौझरण अर्क भी डाल सकते हैं ।
पूज्य बापूजी – रजोकरी, ३० नवम्बर २०१०

पितृदोष निवारण

देशी गाय को प्रतिदिन या अमावस्या को रोटी , गुड़, चारा आदि खिलाने से पितृदोष समाप्त हो जाता है ।
ऋषि प्रसाद पत्रिका

स्मृतिशक्ति बढ़ाने के लिए

स्मृतिशक्ति बढ़ाने हेतु सिर में नित्य बादाम का तेल अल्प मात्रा में अथवा बादाम तेल व नारियल तेल मिलाकर लगाना लाभप्रद है ।

नौकरी-धंधे के लिये

नौकरी-धंधे के लिये जाते हैं, सफलता नहीं मिलती तो इक्कीस बार श्रीमद् भगवद् गीता का अंतिम श्लोक बोलकर फिर घर से निकलें तो सफलता मिलेगी ।
श्लोक – यत्र योगेश्वरः कृष्णो यत्र पार्थो धनुर्धरः । तत्र श्रीर्विजयो भूतिर्ध्रुवा नीतिर्मतिर्मम।।

Insta loan services

यह भी पढ़े: Diesel Cars Ban: अक्टूबर से बंद हो रही है डीजल की ये गाड़ियां, जाने वजह

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button