धर्म

Guru Nanak Jayanti 2021: कब है गुरु नानक जयंती, जानिए कैसे मनाते हैं

Guru Nanak Jayanti 2021: गुरु नानक जयंती, जिसे गुरपुरब भी कहा जाता है। सिख समुदाय के सबसे शुभ अवसरों में से एक है

Guru Nanak Jayanti 2021: गुरु नानक जयंती, जिसे गुरपुरब भी कहा जाता है। सिख समुदाय के सबसे शुभ अवसरों में से एक है। इस साल 19 नवंबर के दिन गुरु नानक देव जी की 552वीं जयंती मनाई जाएगी।

आपको बता दें कि गुरु नानक देव जी सिख समुदाय के पहले गुरु है। यह त्यौहार सिख समुदाय के लिए काफी मत्वपूर्ण है और इस दिन को पूरा सिख समुदाय काफी धूम, धाम से मनाता है। दुनिया भर के गुरुद्वारों को दिए और लाइटों से सजाया जाता है, पूरा दिन लोग प्रार्थना करते है और एक दूसरे को शुभकामनाएं देते हैं।

गुरु नानक जयंती का महत्व

गुरु नानक देव जी का जन्म कार्तिक पूर्णिमा 1469 ई, में ननकाना साहिब में हुआ था। गुरु नानक देव जी की प्राथमिक शिक्षाओं में से एक है “इक ओंकार” इसका मतलब है कि ईश्वर एक है, वो हर जगह विद्यमान हैं।

Guru Nanak Dev Ji Image

गुरु नानक देव जी की सभी शिक्षाएं श्री गुरु ग्रंथ साहिब – सिख धर्म के पवित्र ग्रंथ में पाए जाते हैं। गुरु नानक देव जी के जन्मदिन से 3 दिन पहले ही उत्सव शुरू हो जाता है और गुरुद्वारों में अखंड पाठ का आयोजन किया जाता है। इन तीन दिनों में 72 घंटों तक लगातर पाठ किया जाता है।

जयंती वाले दिन की शुरुआत प्रभात फेरी (जुलूस) के साथ सुबह (अमृत वेला) से होती है। इसके बाद कथा, कीर्तन और लंगर होता है और गुरुद्वारों में भी लंगर का आयोजन होता है।

लंगर में आमतौर पर चावल, रोटी, सब्जी, खीर और लस्सी परोसी जाती है, लेकिन एक चीज़ अहम होती है कड़ा प्रसाद जो की गेहूं, चीनी और घी से तैयार किया जाता है।

Tax Partner

ये भी पढ़े: दिल्ली से बाहर जाने वाले दें ध्यान, लागू हो गया है ODD- EVEN

Jagjeet Singh

जगजीत सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे हैं। इन्होंने टेक्निकल, विश्व और एजुकेशन से सम्बंधित लेखो को अपने लेखन में प्रकाशित किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button