धर्म

करवा चौथ इन चीजों के बिना है अधूरी, जानिए सारी जानकारी

करवा चौथ का इंतजार सभी सुहागिन महिलाओं को होता है. इस दिन पति के लम्बी आयु की कामना से महिलाएं व्रत रखती हैं और फिर शाम को सोलह श्रृंगार करके

करवा चौथ का इंतजार सभी सुहागिन महिलाओं को होता है. इस दिन पति के लम्बी आयु की कामना से महिलाएं व्रत रखती हैं और फिर शाम को सोलह श्रृंगार करके करवा की पूजा करती हैं. करवा पूजा के बाद चन्द्रमा की पूजा होती है .इस व्रत में पूरे दिन सुहागिन महिलाएं निराजल व्रत रखती हैं. यह त्योहार पति और पत्नी के प्रेम का प्रतीक होता है. इस व्रत में सबसे खास और अहम होता है पूजा कि थाली. करवा चौथ के पूजन की थाली में किन-किन चीजों को जरूर शामिल करना चाहिए. आइए जानते हैं काशी के जाने माने विद्वान और ज्योतिषाचार्य स्वामी कन्हैया महाराज से. करवा के अलावा मिट्टी के तीन दीये भी होने चाहिए, जिसे जलाने के लिए कच्चे सूत और घी का इस्तेमाल करना चाहिए.

इसके अलावा करवा चौथ की थाली में छलनी का होना सबसे जरूरी है. इसी चलनी से व्रती महिलाएं चन्द्रमा का दीदार करती हैं. उसके बाद अपने पति के दर्शन कर व्रत का पारण करती हैं. करवा पूजा की थाली में कांस की तीलियां भी होनी चाहिए. इन तीलियों को करवा में बने छेद में लगाया जाता है. इसके अलावा पूजा की थाली में सिंदूर,अक्षत और मिठाई भी रखना चाहिए. इसके अलावा इस थाली में चंद्रमा को अर्ध्य देने के लिए एक लोटा रखना चाहिए. उस लोटा से चन्द्रमा को अर्ध्य देने के बाद व्रती महिलाएं उसका जल पीकर अपना व्रत तोड़ती हैं. इसके अलावा पूजा की थाली में डेलियां को भी जरूर शामिल करना चाहिए. यह डेलियां माता पार्वती का स्वरूप मानी जाती हैं.

Accherishtey

यह भी पढ़े : शरद पूर्णिमा पर इन 6 शुभ संयोग में करे पूजा…जाने विधि
 

Related Articles

Back to top button