धर्म

आज का हिन्दू पंचांग 29 अगस्त: चंद्रमा करेगा कन्या राशि में प्रवेश, बनेंगे 3 शुभ योग

आज का हिन्दू पंचांग 29 अगस्त: राहुकाल और शुभमुहूर्त के साथ जानें कैसे लगेगा कार्यस्थल पर मन और उन्नतिकारक कुंजियाँ

दिनांक – 29 अगस्त 2022

दिन – सोमवार

विक्रम संवत् – 2079

शक संवत् – 1944

अयन – दक्षिणायन

ऋतु – शरद

मास – भाद्रपद

पक्ष – शुक्ल

तिथि – द्वितीया अपरान्ह 03:20 तक तत्पश्चात तृतीया

नक्षत्र – उत्तराफाल्गुनी रात्रि 11:04 तक तत्पश्चात हस्त

योग – साध्य रात्रि 01:04 तक तत्पश्चात शुभ

राहु काल – सुबह 07:56 से 09:31 तक

सूर्योदय – 06:21

सूर्यास्त – 07:00

दिशा शूल – पूर्व दिशा में

ब्राह्ममुहूर्त – प्रातः 04:50 से 05:35 तक

निशिता मुहूर्त – रात्रि 12:18 से 01:03 तक

 पर्व विवरण

विशेष – द्वितीया को बृहती (छोटा बैंगन या कटेहरी) खाना निषिद्ध है । तृतीया को परवल खाना शत्रुओं की वृद्धि करने वाला है । (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

शिवा चतुर्थी – 31 अगस्त 2022

भविष्य पुराण के अनुसार भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी का नाम ‘शिवा’ है । इस दिन किये गये स्नान, दान, उपवास, जप आदि सत्कर्म सौ गुना हो जाते हैं ।

इस दिन जो स्त्री अपने सास-ससुर को गुड़ के तथा नमकीन पुए खिलाती है वह सौभाग्यवती होती है । पति की कामना करनेवाली कन्या को विशेषरूप से यह व्रत करना चाहिए ।

विद्यार्थियों की बुद्धिशक्ति बढ़ाने की युक्ति

भूमध्य को अनामिका से हलका रगड़ते हुए ॐ गं गणपतये नमः । ॐ श्री गुरुभ्यो नमः । करके तिलक करें ।

फिर २-३ मिनट प्रणाम की मुद्रा में (शशकासन करते हुए दोनों हाथ आगे जोड़कर) सिर जमीन पर लगा के रखें । इससे निर्णयशक्ति, बौद्धिकशक्ति में जादुई लाभ होता है । क्रोध, आवेश, वैर पर नियंत्रण पाने वाले रसों का भीतर विकास होता है ।

सूर्योदय के समय ताँबे के पात्र में जल ले के उसमें लाल फूल, कुमकुम डालकर सूर्यनारायण को अर्घ्य दें । जहाँ अर्घ्य का जल गिरे वहाँ की गीली मिट्टी का तिलक करें तो विद्यार्थी की बुद्धि बढ़ने में मदद मिलती है ।

विटामिन बी-१२ का सस्ता, सर्वसुलभ एवं उत्तम स्रोत

‘आम के आम गुठलियों के दाम’ यह कहावत यथार्थ ही है गुठली में जो गिरी रहती है वह विभिन्न प्रकार के पोषक तत्वों से भरपूर है, जो कि शारीरिक एवं मानसिक विकास के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है ।

आधुनिक वैज्ञानिकों ने भी अनेक अनुसंधानों से आम की गुठली की मींगी में पाये जानेवाले पोषक तत्त्वों का अध्ययन करके पाया है कि ‘आम की गुठली की 100 ग्राम मींगी में आम के 2 किलो गूदे से ज्यादा पोषक तत्व पाये जाते हैं और आम के गूदे से २० गुना ज्यादा प्रोटीन, ५० गुना ज्यादा स्नेहांश यानी फैट और ४ गुना ज्यादा कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है ।

विटामिन बी-१२ शरीर में रक्तकणों के उत्पादन में एवं तंत्रिका तंत्र (Nervous System) को स्वस्थ रखने में अत्यंत महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाता है । शाकाहारी लोगों में विटामिन बी-१२ की कमी होने का खतरा अधिक रहता है। एक शोध के अनुसार कम-से-कम ४७% भारत के लोगों में अर्थात् लगभग हर २ व्यक्तियों में से १ व्यक्ति में विटामिन बी-१२ की कमी है ।*

विटामिन बी-१२ की कमी के लक्षण

विटामिन बी-१२ की कमी होने पर खून की कमी होकर थकान, कमजोरी एवं आलस्य बना रहता है, साथ ही मुँह के छाले, हाथ-पैरों में सुन्नपन आना, आँखों की रोशनी कम होना आदि लक्षण दिखते हैं । यदि ध्यान न दिया जाय तो चलते समय शरीर का संतुलन बनाने में समस्या आना, सोचने-समझने की शक्ति में कमी होना, चिड़चिड़ापन आना आदि के साथ मस्तिष्क एवं स्नायु-तंत्र को गम्भीर क्षति पहुँचती है । यहाँ तक कि हृदय की निष्क्रियता जैसे गम्भीर उपद्रव भी हो सकते हैं ।*

बी-१२ की दैनिक जरूरत व मींगी में मात्रा

एक वयस्क व्यक्ति के लिए लगभग १ माइक्रोग्राम विटामिन बी-१२ की दैनिक जरूरत होती है । सगर्भावस्था में एवं स्तनपान करानेवाली महिलाओं में यह मात्रा १.२ से १.५ माइक्रोग्राम तक होती है । १०० ग्राम मींगी में लगभग १२० माइक्रोग्राम विटामिन बी-१२ पाया जाता है अर्थात् दैनिक जरूरत से १२० गुना ज्यादा !

Insta loan services

यह भी पढ़े: दिल्ली में खत्म हुई शराब पर मिलने वाली बंपर छूट, जानें नई नीतियां

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button