धर्म

आज का हिन्दू पंचांग 9 जून: आज करें शिव आराधना, जानें शुभ-अशुभ समय

आज का हिन्दू पंचांग 9 जून: राहुकाल और शुभमुहूर्त के साथ जानें कैसे लगेगा कार्यस्थल पर मन और उन्नतिकारक कुंजियाँ

दिनांक 09 जून 2022

दिन – गुरुवार

विक्रम संवत – 2079

शक संवत – 1944

अयन – उत्तरायण

ऋतु – ग्रीष्म

मास – ज्येष्ठ

पक्ष – शुक्ल

तिथि – नवमी सुबह 08:21 तक तत्पश्चात दशमी

नक्षत्र – हस्त रात्रि (10 जून प्रातः 04:26 ) तक तत्पश्चात चित्रा

योग – व्यतिपात रात्रि 01:50 तक तत्पश्चात वरीयान

राहुकाल – अपरान्ह 02:20 से 04:02 तक

सूर्योदय – 05:53

सूर्यास्त – 07:24

दिशाशूल – दक्षिण दिशा में

ब्रह्म मुहूर्त– प्रातः 04:30 से 05:12 तक

निशिता मुहूर्त – रात्रि 12.18 से 01:00 तक

व्रत पर्व विवरण– व्यतिपात योग, गंगा दशहरा समाप्त

विशेष – नवमी को लौकी खाना निषेध है । (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

व्यतिपात योग
09 जून 2022 गुरुवार को प्रातः 03:28 से रात्रि 01:50 तक
व्यतिपात योग में किया हुआ जप, तप, मौन, दान व ध्यान का फल १ लाख गुना होता है ।

गंगा दशहरा समाप्त – 09 जून 2022

गंगा स्नान के लिए रोज हरिद्वार तो जा नही सकते, घर में ही गंगा स्नान का पुण्य मिलाने के लिए एक छोटा सा मन्त्र है …

ॐ ह्रीं गंगायै । ॐ ह्रीं स्वाहा ।।

ये मन्त्र बोलते हुए स्नान करे तो गंगा स्नान का लाभ होगा । गंगा दशहरा के दिन इसका लाभ जरुर लें ….
पूज्य बापूजी -31st May’ 2012

बुद्धि विकसित करने के लिए 

बुद्धू से बुद्धू हो ये मंत्र जप करें तो बुद्धि विकसित होगी । अगर काले तिल और चावल मिलाकर १० माला आहुति देकर मंत्र करें तो ३ दिन में तो तुम्हारी क्या-क्या योग्यता विकसित होगी ।

वो मंत्र है – ॐ गं गणपतये नम: ।

१ माला रोज जप करें । ४० दिन के बाद उसके बुद्धि में परिवर्तन होके ही रहेगा । १ माला रोज करें विद्यार्थी परीक्षा में अच्छे मार्क लायेगा । व्यापारी निर्णय अच्छे करेगा, ऑफिसर निर्णय अच्छे करेगा । जो शरीर का सार तत्त्व है, वो ज्ञानतंत्र में मंत्र के प्रभाव से, इष्ट के प्रभाव से जागेगा, बुद्धि का विकास होगा …
Insta loan services

यह भी पढ़े: दिल्‍ली के इन इलाकों में हो सकती है पानी की समस्या, पहले से कर लें तैयारी</st

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button