खेल

पूर्व कप्तान मिताली राज ने कहा इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की पूर्व वनडे और टेस्ट टीम की कप्तान ने लिया इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ट्विटर पर जारी किया पूरा बयान

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की वनडे और टेस्ट टीम की कप्तान मिताली राज ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। पूर्व कप्तान ने ट्विटर पर फैंस को अपने इस फैसले की जानकारी दी जहां पर उन्होंने अपने 23 साल के लंबे क्रिकेट करियर को अलविदा कहते हुए अपना पूरा बयान साझा किया।

39 वर्षीय मिताली राज भारत की अब तक की सबसे अधिक कैप्ड महिला क्रिकेटर के रूप में सेवानिवृत्त हुईं साथ ही महिला अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में लीडिंग रन-स्कोरर के रूप में भी भारत के लिए मिताली ने 333 मैचों में 10,868 रन बनाये। अर्जुन अवार्ड विजेता और पद्म श्री अवार्डी, मिताली ने 1999 में 16 साल की उम्र में अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत की और अगले दो दशकों में मिताली राज आल टाइम ग्रेट की सूची में एक बन गई। कप्तान के रूप में, मिताली राज ने भारत को दो विश्व कप- 2015 और 2017 के फाइनल में पहुंचाया।

मिताली राज ने अपने ट्विटर बयान में लिखा, “इतने सालों से आपके प्यार और सपोर्ट के लिए धन्यवाद. मैं अपनी दूसरी पारी के लिए आपके आशीर्वाद और सपोर्ट चाहूंगी.”

महिला क्रिकेटर ने आगे लिखा, “हर सफर की तरह, मेरे क्रिकेट करियर का भी एक मोड़ पर आकर अंत होना था. आज वो दिन है, जब मैं इंटरनेशनल क्रिकेट के हर फॉर्मे से संन्यास ले रही हूं। मैं मन में हमेशा भारतीय टीम को जिताने का इरादा लेकर मैदान में उतरी और उसके पूरी कोशिश भी की, भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी करने का मौका मिला, उसे मैं हमेशा याद रखूंगी। मुझे लगता है कि अब मेरे लिए बल्ला टांगने का सही समय आ गया है। कई युवा खिलाड़ी हैं, जो टीम की बागडोर संभालने के लिए तैयार है। भारतीय क्रिकेट का भविष्य सुनहरा है।”

भारतीय महिला वनडे टीम की कप्तान रहीं मिताली राज ने आगे लिखा, “भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान और एक खिलाड़ी के रूप में बीसीसीआई और सचिव जय शाह सर से मुझे जो सपोर्ट मिला, उसकी मैं शुक्रगुजार हूं। इतने सालों तक टीम की कप्तानी करना वाकई सम्मान और गर्व की बात है। मुझे इसने एक बेहतर इंसान बनने में मदद की और उम्मीद करती हूं कि भारतीय महिला क्रिकेट को इसका फायदा हुआ होगा। एक खिलाड़ी के तौर पर मेरा यह सफर भले ही खत्म हो गया है, लेकिन, दूसरा इंतजार कर रहा है। मैं खुद को इस खेल से जोड़े रखना चाहूंगी,l मैं भारत और दुनिया में वुमेंस क्रिकेट की बेहतरी और उसे बढ़ावा देने की दिशा में योगदान देने के लिए तैयार हूं। सभी फैंस का मुझे प्यार और सपोर्ट करने के लिए शुक्रिया। ”

Madhavgarh Farms

ये भी पढ़े: जानें कब और कहां खेली जाएगी India vs South Africa के बीच T20 सीरीज

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button