टेकट्रेंडिंगदिल्लीदेश

आज से नए सिम कार्ड नियम लागू, जानें अन्यथा होगी कठिनाई

नए सिम कार्ड नियम 1 दिसंबर से लागू होंगे, जिसमें थोक सिम कार्ड की बिक्री पर रोक और PoS  एजेंट और वितरकों का अनिवार्य पंजीकरण शामिल है।

नए सिम कार्ड नियम 1 दिसंबर से लागू होंगे, जिसमें थोक सिम कार्ड की बिक्री पर रोक और PoS  एजेंट और वितरकों का अनिवार्य पंजीकरण शामिल है।

इस साल अगस्त में सरकार द्वारा पेश किए गए नए सिम कार्ड नियम अंततः 1 दिसंबर से लागू होंगे। नियम कई बदलाव बड़े लाएंगे, जिसमें टेलीकॉम ऑपरेटरों और सिम डीलरों के पुलिस सत्यापन सहित अन्य कई माध्यमों द्वारा थोक सिम कार्ड की बिक्री पर प्रतिबंध, पीओएस फ्रेंचाइजी, एजेंटों और वितरकों का अनिवार्य पंजीकरण शामिल है। 

आज से लागू होने वाले नए सिम कार्ड नियम पर एक नज़र-

1) पंजीकरण प्रक्रिया: नए नियमों के तहत, PoS एजेंटों को अवैध गतिविधियों में शामिल होने से रोकने के लिए दूरसंचार सेवा प्रदाता या लाइसेंसधारी के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर करना होगा। यदि PoS एजेंट किसी अवैध गतिविधि में लिप्त पाए जाते हैं तो उन्हें 10 लाख रुपये का जुर्माना भरना पड़ सकता है और टेलीकॉम कंपनी के साथ उनका जुड़ाव तीन साल की अवधि तक के लिए ख़त्म कर दिया जाएगा।

नई पंजीकरण आवश्यकताओं का अनुपालन करने के लिए विक्रेताओं के पास 1 दिसंबर से 12 महीने का समय होगा। इस कदम से सरकार को दूरसंचार कंपनियों के सिस्टम से अवैध अथवा गारकानूनी विक्रेताओं की पहचान करने, उन्हें ब्लैक लिस्ट में डालने की उम्मीद है।

2) केवाईसी नियम: नए नियमों के तहत, नए सिम कार्ड खरीदने या मौजूदा नंबर पर नए सिम के लिए आवेदन करने के लिए जनसांख्यिकीय विवरण अनिवार्य होगा। सिम कार्ड लेने वाले व्यक्ति के आधार कार्ड पर क्यूआर कोड को स्कैन करके ज़रूरी विवरण प्राप्त किया जाएगा।

इसके अंतर्गत, मोबाइल नंबर के डिस्कनेक्ट (पिछले उपयोगकर्ता द्वारा) होने के 90 दिनों के बाद ही नए ग्राहक को सौंपा जाएगा। यह भी कहा गया है कि ग्राहक को सिम बदलने के लिए पूरी केवाईसी प्रक्रिया से गुजरना होगा और आउटगोइंग और इनकमिंग एसएमएस सुविधाओं पर 24 घंटे के लिए स्थगित होगी।

3) सिम की थोक खरीदारी: डिजिटल धोखाधड़ी को रोकने के लिए सरकार ने सिम कार्ड की थोक बिक्री पर रोक लगा दी है। हालाँकि, व्यवसायों, कॉरपोरेट्स या आयोजनों के लिए कनेक्शन या सिम की अनुमति प्रत्येक व्यक्तिगत सिम कार्ड मालिक पर लागू अपने ग्राहक को जानें या केवाईसी मानदंडों के साथ दी जाएगी।

हालाँकि, ग्राहक अभी भी एक आईडी कार्ड पर 9 सिम कार्ड तक खरीद सकेंगे। थोक सिम कार्ड के दुरुपयोग के बारे में बोलते हुए, केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने अगस्त में कहा था कि पहले, लोग थोक में (मोबाइल) सिम कार्ड खरीदते थे। इसके लिए थोक में सिम कार्ड खरीदने का प्रावधान था। हालाँकि, इस प्रावधान को ख़त्म करने का निर्णय लिया गया है। इसके बजाय, हम एक उचित व्यावसायिक कनेक्शन प्रावधान लाएंगे जो धोखाधड़ी वाली कॉल को रोकने में मदद करेगा।

Accherishteyये भी पढ़े: Infinix जल्द लॉन्च करेगा हुबहू  iPhone 15 सीरीज जैसा दिखने वाला स्मार्टफ़ोन 

Related Articles

Back to top button