ट्रेंडिंगविश्व

चीन में 10 वर्ष में आधी रह गई विवाह की संख्या, ये हैं शादी न करने के दो कारण

जनवरी 2021 से चीन में तलाक के लिए 30 दिन के कूलिंग-ऑफ पीरियड का प्रावधान किया गया है। इससे तलाक भी घटे हैं। लोग इसे आजादी के खिलाफ मान रहे...

दुनिया का सबसे अधिक आबादी वाले देश चीन की अब तेजी से कम होती जनसंख्या के बाद हर वर्ष घटते विवाहों से बहुत परेशान है। सांख्यिकी वार्षिकी के मुताबिक, साल 2022 में पूरे चीन में कुल 1.16 करोड़ लोगों ने पहला विवाह किया है। वर्ष 2021 के मुकाबले यह संख्या लगभग 7 लाख कम है, वहीं वर्ष 2013 के कुल 2.39 करोड़ के मुकाबले आधी है। चीन में इस गिरावट को जनसांख्यिकी से जुड़े एक नये खतरे की तरह से देखा जा रहा है।

अब सांख्यिकी साल की रिपोर्ट में विवाहों के आंकड़ों ने चीन में बहुत बड़ी बहस छेड़ दी है, युवा विवाह क्यों नहीं कर रहे? साल 2022 में 60 वर्ष में पहली बार जितनी आबादी बढ़ी उससे अधिक चीन में मृत्यु हुईं। बता दे की एक हजार लोगों पर औसतन 6.77 बच्चों का ही सिर्फ जन्म हुआ। वहीं, दूसरी तरफ पहली बार विवाह करने वालों की औसत उम्र भी बढ़ी है। वर्ष 2010 में यह औसत 24.89 साल थी, जो वर्ष 2020 तक बढ़कर कुल 28.67 पर पहुंच गई है।

हाल ही में मनाए चीनी चंद्र नववर्ष में वीबो नामक चीनी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भी विवाहों की काफी ज्यादा गिरती संख्या पर खूब बहस हुई। इस मामले में युवाओं ने खुल कर अपना नजरिया रखा और अधिकतर लोगों ने विवाहों की गिरती संख्या को ‘बुद्धिमानी भरा चलन’ बताया, और साथ ही कहा, वे खुद भी विवाह नहीं करना चाहते, तो कुछ लोगों ने इसे ‘जुआ’ करार दिया।

विवाह न करने के दो बड़े कारण…

जनवरी 2021 से चीन में तलाक के लिए 30 दिन के कूलिंग-ऑफ पीरियड का प्रावधान किया गया है। इससे तलाक भी घटे हैं। लोग इसे आजादी के खिलाफ मान रहे हैं, क्योंकि अब तलाक लेना आसान नहीं रहा।

चीनी समाजशास्त्री मानते हैं कि आज युवाओं का जीवन भारी तनाव से भरा है। इस पर महंगी शादी का खर्च, घर खरीदना, बच्चे पालने के खर्च उन्हें मुश्किलों में डाल रहे हैं। भारत के मुकाबले यहां भोजन 117%, घर का किराया-रखरखाब 111% महंगा है।

Accherishtey

ये भी पढ़े: कुत्ते के काटने की घटना में शख्स को तीन महीने की सजा, कोर्ट ने 12 वर्ष बाद सुनाया फैसला

Gagandeep Singh

गगनदीप सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। जहां ये दिल्ली से जुड़ी सारी क्राइम की खबरें निडर होकर अपने लेख से लोगों तक पहुंचाते है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button