विश्व

युद्धविराम के बाद इजरायली बंधकों के पहले समूह को हमास ने किया रिहा

बंधकों को सीधे इजरायल न ले जाकर पहले ले जाया जाएगा मिस्र, वहां से उन्हें इजरायल को सौंपे जाने की पूरी होगी प्रक्रिया

इस समय चल रहे इजरायल-हमास के बीच के युद्ध ने चार दिनों के लिए विराम प्राप्त किया है। हमास ने एक समझौते का पालन करते हुए अपने बंधकों को रिहा करने की शुरुआत की है। इस समझौते के अनुसार, इजराइल के 13 और थाइलैंड के 14 नागरिकों को सीधे इजराइल नहीं भेजा जाएगा। उन्हें पहले मिस्र ले जाकर इजराइल भेजा जाएगा।

 

रिहाई की प्रक्रिया में रेडक्रॉस इजराइल के बंधकों को इजिप्ट तक ले जा रही है। वहां से हेलीकॉप्टर के माध्यम से वे अपने देश इजराइल लौटेंगे। राफा बॉर्डर पर भारी भीड़ है, जहां लोग अपने परिजनों का इंतजार कर रहे हैं।

 

इस पूरे कार्यक्रम की नजर इजराइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू पर है। उनकी मुख्य प्राथमिकता है कि बंधकों को सुरक्षित तरीके से वापस लाया जाए।

 

इस समझौते में हमास ने 50 बंधकों की रिहाई का वादा किया है, जवाब में इजराइल ने तीन फिलिस्तीनी कैदियों को रिहा करने का वादा किया है। यह प्रक्रिया चार दिनों में कई चरणों में पूरी की जाएगी।

 

इस युद्ध में अब तक गाजा में 14000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि इजराइल में 1200 लोगों की जान गई है। इस युद्ध की शुरुआत 7 अक्टूबर को हुई थी, जब हमास ने इजराइल पर हमला किया था।

इसके बाद से ही इजराइल ने हमास के खिलाफ कठोर कार्रवाई की घोषणा की और युद्ध शुरू हुआ।

Accherishtey

Related Articles

Back to top button