विश्व

जानें क्यों मजबूर है अपने बच्चों को बेचने के लिए अफगानी परिवार

अफगानिस्तान (Afghanistan) के हालात काफी ख़राब होते जा रहे है। इसको लेकर संयुक्‍त राष्‍ट्र की कई रिपोर्ट अब तक सामने आ चुकी है।

अफगानिस्तान (Afghanistan) के हालात काफी ख़राब होते जा रहे है। इसको लेकर संयुक्‍त राष्‍ट्र की कई रिपोर्ट अब तक सामने आ चुकी है। जिसमे अफगानिस्तान के हालातों पर चिंता जताई गई है। जिसमे कहा गया है कि आने वाले समय में वहां की आधी से अधिक आबादी पर खाने का संकट पैदा हो सकता है।

ऐसे में बात सामने आई है कि वहां के अफ़ग़ान परिवार के लोग दो वक़्त की रोटी जुटाने के लिए अपनी बच्चियों को बेच रहे है।

इनमे से एक फाहिमा इन्‍हीं है जिसको अपनी दोनों बच्चियों को बेचने के लिए मजबूर होना पड़ा। बता दें कि उसके पति के कहने पर उसे यह कदम उठाना पड़ा। उसके पति का कहना था की अगर हमने यह कदम नहीं उठाया तो हम सारे भूख की वजह से खत्‍म हो जाएंगे।

इसी के साथ फाहिमा ने अपनी जिन 2 बच्चियों को बेचा है उनमें एक महज छह वर्ष की है जबकि दूसरी केवल 18 माह की है। इसमें एक खास बात यह भी है की जिसने इन 2 बच्चियों को ख़रीदा है उसने उनकी पूरी कीमत भी नहीं चुकाई है।

अफगानिस्‍तान में बच्चियों की कीमत 3350 डालर और छोटी बच्चियों के लिए 2800 डालर दिए जा रहे हैं। आपको बता दें कि अफगानिस्‍तान में चाइल्‍ड मैरिज की परंपरा काफी पुरानी है। लेकिन वर्षों तक चले युद्ध, हिंसा, ने यहां के हालातों को और खराब करने का काम किया है।

फाहिमा ने बताया कि जिस दुकान से उनका राशन का सामान आता था उसने उधार अधिक होने की वजह से सामान देना बंद कर दिया था। दुकानदार ने यह भी धमकी दी थी की अगर पैसे नहीं चुकाए तो उन सभी को जेल में बंद करवा देगा। इस परेशानी से बचने के लिए उसने दुकानदार से इस सौदे के लिए मजबूर होना पड़ा था।

radhey krishna auto

ये भी पढ़े: महिला ने अपनी सूझबूझ के चलते आरोपी को पकड़वाया, काफी दिलचस्प है मामला

Jagjeet Singh

जगजीत सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे हैं। इन्होंने टेक्निकल, विश्व और एजुकेशन से सम्बंधित लेखो को अपने लेखन में प्रकाशित किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button