विश्व

जानें किस वजह से पेट्रोल-डीजल फ्री होने की ओर हैं विश्व के ये शहर?

पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों ने सबको परेशान कर रखा हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि दुनिया के यह शहर पेट्रोल-डीजल से मुक्त होने वाले हैं।

भारत समेत दुनिया भर के देशों में बढ़ते पेट्रोल-डीजल के दामों के कारण लोग काफी परेशान है। आज के वक्त में पेट्रोल-डीजल पर दुनिया भर में हजारों गाड़िया चल रही है। लेकिन जैसे-जैसे वक्त बदल रहा है और आगे बढ़ रहा है, वैसे-वैसे वाहन में इस्तेमाल होने वाले ईंधन में भी बदलाव आ रहा है। ऐसे में क्या आप जानते हैं कि भविष्य में ना ही कुछ शहरों के लोगों को पेट्रोल-डीजल के दामों पर चिंता लेनी पड़ेगी और ना ही इन शहरों में पेट्रोल डीजल इस्तेमाल होगा।

आज हम आपको दुनिया के उन शहरों के बारे में बताएंगे जो पेट्रोल-डीजल मुक्त होने की तरफ तेजी से आगे बढ़ रहा है।

1} मैकिनैक आइलैंड

आज प्रदूषण मुक्त, ट्रैफिक मुक्त और पेट्रोल के बढ़ते दामों से मुक्त होने का सपना हम देखते है, यह सपना मैकिनैक आइलैंड ने पूरा कर दिखाया है। यहां साल 1898 में मिशन शुरू कर दिया था। जिसके बाद इस आइलैंड पर केवल साइकल और घोडा गाड़ी का इस्तेमाल होता है।

2} वेनिस सिटी

इटली के वेनिस सिटी की बात ही कुछ और है। यहां पूरे शहर में रोड की जगह नहरों का जाल बिछा हुआ है। वही लोगों के पास अपनी बोट है। इस कारण से लोग आसानी से बोट के माध्यम से एक जगह से दूसरी जगह जाते है।

3} लंदन के बीच स्ट्रीट

ब्रिटेन के लंदन के बीच एक ऐसी स्ट्रीट हैं जहां पेट्रोल-डीजल पूर्ण रूप से बैन किया गया है। यहां केवल इलेक्ट्रॉनिक, सोलर एनर्जी पर चलने वाली कारों को ही अनुमति दी जाती ह।

4} पेरिस के कार फ्री जोन

पेरिस में बढ़ते प्रदूषण के कारण कई दिन कार फ्री के तौर पर मनाए जाते है। यहां 2024 तर सिटी को कार फ्री बनाने का लक्ष्य है।

5} कोपेनहेगन की साइक्लिंग

डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन की बात ही निराली है। यहां साइक्लिंग फैशन के रूप में मानी जाती है। यहां तो लोगों को चाहे ऑफिस जाना हो या चाहे किसी मीटिंग में जाना हो, लोग साइकिल का इस्तेमाल करते है।

6} वैंकुवर का फ्यूचर ट्रांसपोर्ट

कनाडा के इस खूबसूरत शहर में 2035 तक पेट्रोल-डीजल पर चल रही कारों को बैन करने का प्लान है। यहां बस ट्रांसलिंक, सी-बसेज, स्काई-ट्रेन जैसी सुविधा दी गई है।

7} केपटाउन

दक्षिण अफ्रीका की राजधानी केपटाउन के इलाकों को कार फ्री जोन बना दिया गया है। यहां कई अन्य इलाकों को कार फ्री जोन बनाने की तयारी चल रही है।

8} क्विटो का ओमिशन-फ्री विजन

इस शहर में 2035 तक प्रदूषण कर रहे कारों को बैन करने का फैसला लिया है। वही यहां कई कंपनियां सस्ती इलेक्ट्रिक कारों का निर्माण कर रही है।

भारत में क्या हैं सिचुएशन ?

भारत ना केवल बढ़ती ईंधन की कीमतों से झुझ रहा हैं, बल्कि प्रदूषण से भी बुरा हाल हैं। इसी कारण 2030 तक भारत में पेट्रोल-डीजल की गाड़ियों की बिक्री पर रोक लगाने का लक्ष्य बनाया है। वही इस लक्ष्य के लिए देश में इलेक्ट्रॉनिक गाड़िया बनाई जा रही है है। साथ ही साथ इलेक्ट्रॉनिक साइकिल, स्कूटी आदि पर सरकार का सब्सिडी देने का विचार है।
Tez Tarrar App

यह भी पढ़े: Delhi School News: दिल्ली में बढ़ते कोरोना के मामलों के कारण क्या फिर बंद हो सकते हे स्कूल?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button